अब ग्रामीण क्षेत्रों में सामाजिक कार्यों का बीड़ा उठाएंगी बिजली कंपनियां

चंडीगढ़ । हरियाणा की बिजली कंपनियां अब कारपोरेट घरानों की तर्ज पर ग्रामीण क्षेत्रों में सामाजिक कार्यों को लेकर जिम्मेदारी लेंगी. बिजली निगमों के अतिरिक्त मुख्य सचिव पीके दास ने सीएसआर कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी) फंड का ब्यौरा मांगा है. बिजली कंपनियां अब ग्रामीण और गरीब बच्चों के लिए लाइब्रेरी और कंप्यूटर जैसे कार्यक्रमों को करवाएंगे. हरियाणा बिजली निगमा ने इस विषय को लेकर मीटिंग की है.

Bijli Karmi

मुख्य सचिव पीके दास ने सीएसआर फंड की धनराशि का उपयोग कैसे और कहां करेंगे इसकी जानकारी भी ली है.अब उक्त फंड का उपयोग पहले चरण के अंदर उन गांवों में किए जाएगा. जहां सरकार की योजना म्हारा गांव जगमग गांव के अंदर आने वाले गाँवो में बिजली बिजली बिल समय पर भरे जा रहे है ता नहीं इस चीज़ की भी जानकारी मांगी है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में आज से मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना रजिस्ट्रेशन शुरू, ऐसे कर सकते है आवेदन

सामाजिक कार्य करने की रणनीति तैयार की गई है. इसके तहत ग्राम पंचायत भूमि भवन आदि का व्यवस्था कर देते है, तो उस सूरत में गांव के अंदर लाइब्रेरी एवं कंप्यूटर आदि की व्यवस्था की जाएगी. कहा जा रहा है कि सबसे पहले जगमग गांव में कारपोरेट सोशल फंड का इस्तेमाल होगा. गांव में पंचायत घर चौपाल के अलावा सामाजिक जगह का इस्तेमाल लाइब्रेरी और कंप्यूटर ट्रेनिंग प्रोग्राम के लिए किया जाएगा. इन फंडो का उपयोग गरीब बच्चों के लिए करेंगे.

यह भी पढ़े -   भूपेंद्र सिंह हुड्डा बोले- किसानों की मांगों को स्वीकार करने के लिए केंद्र पर दबाव बनाए राज्य सरकार

बच्चों की मदद करेंगे


उन्होंने बताया कि मैथ और साइंस वाले बच्चे और इसमें अच्छे अंक प्राप्त करने वाले बच्चों को अच्छी पढ़ाई और साथ में उनके करियर को लेकर उनकी मदद करेंगे.  बच्चों को बिजली के काम के साथ उसकी नॉलेज के अलावा बहुत सी चीजों का ज्ञान देंगे .

यह भी पढ़े -   हरियाणा सीएम प्रेस कांफ्रेंस मे लिए ये फैसले, जाने विस्तार से

होनहार इंजीनियर देंगे गुरु मंत्र

मुख्य सचिव पीके दास चाहते हैं कि बिजली निगमों के होनहार इंजीनियर और तकनीकी रूप से मजबूत अधिकारियों का उपयोग किया जाए. यह अधिकारी स्वेच्छा से ग्रामीण गरीब बच्चों को विभाग की कार्यप्रणाली के साथ साथ आगे बढ़ने वे रोजमर्रा के कामकाज की जानकारी देकर आने वाले समय के लिए तैयार करेंगे. यह एक तरह का सामाजिक काम होगा जिसके लिए उन सभी को निगमों की ओर से प्रशंसा पत्र भी दिए जाएंगे.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!