हरियाणा में अब इनको भी मिलेगी पेंशन, अनिल विज ने किया शुभारंभ

चंडीगढ़ । हरियाणा में एडस  से पीड़ित लोगों को हर महीने 2250 रुपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी. स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने एचआईवी पॉजिटिव और एड्स से पीड़ित लोगों को पेंशन का चेक देकर योजना की शुरुआत की है.

Haryana CM Press Conference

गृह मंत्री ने की  इन योजनाओं की शुरुआत 

जेलों में हेपेटाइटिस बी और सी की जांच के लिए दूसरा चरण भी शुरू किया गया. गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने मलेरिया मुक्त नूहू अभियान के दूसरे चरण की शुरुआत की. उन्होंने कहा कि परिवार नियोजन जैसे कार्यक्रमों के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए अंतरा हरी सॉफ्टवेयर लॉन्च किया गया है. बता दे कि नूह में मलेरिया के मामलों में 97% की गिरावट दर्ज की गई है.

यह भी पढ़े -   शिक्षा विभाग का आदेश: कोरोना के खिलाफ जंग में अब उतरेंगे गुरुजी, आज से ट्रेनिंग शुरू

दूसरे चरण में जिले के 3 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों उजीना,सुडाका, व बाई के तहत आने वाले 62 गांवों के 186000 लोगों की जांच और उपचार के लिए 74 टीमें लगाई गई है. वहीं स्वास्थ्य मंत्री ने 7 नए एआरटी सेंटर का उद्घाटन किया. उन्होंने कहा कि एचआईवी और सिफलिस का पता लगाने के लिए सभी गर्भवती महिलाओं की जांच करवाई जाएगी. गांव की आशा वर्कर्स व एएनएम द्वारा यह काम किया जाएगा. विज ने बताया कि अंतरा हरि सॉफ्टवेयर एक वेब मोबाइल आधारित एप्लीकेशन है, जो इंजेक्टबल गर्भनिरोधक और उनकी खुराक लेने वाले उपयोगकर्ताओं को लाइन लिस्ट करता है.

यह भी पढ़े -   गेहूं का भुगतान तीन दिन में जारी करने का था वादा, दस दिन हो गए अभी तक नहीं आई रकम

इसका मेन उद्देश्य अंतरा साधन अपनाने  वाले लाभार्थियों को समय पर सेवा उपलब्ध करवाना है. स्वास्थ्य सचिव राजीव अरोड़ा ने बताया कि हरियाणा एचसीवी जेल परियोजना के तहत हेपेटाइटिस बी और सी के लिए सभी 19 जेलों के कैदियों की स्क्रीनिंग की जाएगी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!