हरियाणा में BJP ने 2 सीटों पर माना कड़ा मुकाबला, जेपी नड्डा ने पार्टी नेताओं को दिया जीत का मूलमंत्र

चंडीगढ़ | लोकसभा चुनावों की गहमा- गहमी के बीच BJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पंचकूला में पार्टी कोर कमेटी की बैठक बुलाई थी, जिसमें हॉट लोकसभा सीट रोहतक और सिरसा में कड़े मुकाबले की बात कही गई है. बीजेपी के लोकसभा प्रभारियों की इंटरनल रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है. यह रिपोर्ट जेपी नड्डा अपने साथ दिल्ली लेकर गए हैं. वहीं, बाकी 8 लोकसभा सीटों पर भी पार्टी प्रत्याशियों की जीत को आसान नहीं बताया गया है.

JP Nadda

इन इलाकों में पार्टी की हालत खराब

लोकसभा प्रभारियों की इंटरनल रिपोर्ट में इन 8 सीटों पर 3 से 4 विधानसभा क्षेत्रों में बीजेपी की स्थिति कमजोर आंकी गई है, जहां शहरी क्षेत्रों में पार्टी मजबूत स्थिति में खड़ी हैं तो वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में पार्टी को जबरदस्त विरोध झेलना पड़ रहा है. खासकर जाट बाहुल्य क्षेत्रों में तो पार्टी की स्थिति बेहद खराब बताई गई है.

जेपी नड्डा ने दिए ये निर्देश

लोकसभा प्रभारियों की इंटरनल रिपोर्ट जानने के बाद राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने अगले 15 दिनों में आमजन से जनसंपर्क बढ़ाने और वोटर्स के घर- घर जाने के लिए पार्टी कार्यकर्ताओं के ग्रुप बनाने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा है कि राम मंदिर निर्माण से लेकर पीएम मोदी की ओर से किए गए अन्य कार्यों के बारे में जनता को समझाने के साथ ही कांग्रेस शासनकाल के दौरान हुए घोटालों के बारे में लोगों को बताया जाए.

ऐसे नेताओं पर होगी कार्रवाई

जेपी नड्डा ने नाराजगी दिखा रहे नेताओं की चुनाव प्रचार से दूरी को गंभीरता से लिया है. उन्होंने कहा कि यह नरेंद्र मोदी को लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री बनाने का चुनाव है, इसलिए ऐसे नेताओं पर पैनी नजर रखी जा रही है. पार्टी प्रत्याशी की हार हो या फिर जीत, लोकसभा चुनावों के बाद ऐसे नेताओं पर कार्रवाई होगी.

PM की रैली की डिमांड

लोकसभा प्रभारियों की रिपोर्ट पर जेपी नड्डा ने चुनाव प्रभारी और सीएम नायब सैनी के साथ अलग से चर्चा की और मौजूदा स्थिति को और बेहतर बनाने की रणनीति तैयार की गई. वहीं, कड़े मुकाबले वाली दोनों सीटों पर पीएम मोदी की रैलियों को लेकर भी बातचीत हुई. इसमें लोकसभा प्रभारियों ने कमजोर व फंसी हुई सीटों पर प्रधानमंत्री की रैली कराने का आग्रह किया. इसके अलावा, यूपी के सीएम आदित्यनाथ योगी, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की जनसभाओं को लेकर भी चर्चा हुई है.

वहीं, नाराजगी दिखा कर चुनाव प्रचार से दूर बैठे नेताओं से भी जेपी नड्डा ने एक- एक करके बातचीत की है. इसमें राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़, पूर्व वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु, पूर्व शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा और सुधा यादव का नाम शामिल हैं. पार्टी से खुलकर अपनी नाराजगी दिखा रहे पूर्व गृह मंत्री अनिल विज इस बैठक में उपस्थित नहीं हुए.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!