अब बिजली उपभोक्ताओं को ऐसे प्रोत्साहित करेगा बिजली निगम, शुरू की यह खास योजना

चंडीगढ़ । दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम ने अपने ग्रामीण उपभोक्ताओं के लिए एक ऐसी नई योजना का आगाज किया है जिससे उपभोक्ताओं को समय पर अपने बिजली बिल का भुगतान करने की आदत बन जाएगी तो वहीं उनको न बिजली कार्यालयों में बिल भरने के लिए घंटों लाइनों में इंतजार करना पड़ेगा और न जुर्माने की नौबत आएगी.

Bijli Karmi

आपको बता दें कि इस योजना के तहत बिजली निगम समय पर बिल का ऑनलाइन भुगतान करने वाले उपभोक्ताओं में से प्रत्येक ऑपरेशन मंडल में हर तीन महीने बाद 5 उपभोक्ताओं को 2100-2100 रुपए प्रोत्साहन राशि के रूप में प्रदान करेगा. उल्लेखनीय है कि बिजली उपभोक्ताओं में ऑनलाइन भुगतान करने,समय व उर्जा की बचत करने, लाइन लॉस कम करने, बिलों की अदायगी में तेजी लाएं जाने के मकसद से ही मुख्यमंत्री मनोहर लाल की पहल पर दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम ने ग्रामीण उपभोक्ताओं के लिए यह विशेष प्रोत्साहन योजना शुरू की है.

गौरतलब है कि पिछले कुछ समय में हरियाणा में बिजली के मामले में बड़े बदलाव देखने को मिलें हैं. सरकार के नए प्रयोगों के चलते व खास प्रयासों से बिजली बिल अदायगी कई गुना बढ़ गई हैं और लाइन लॉस भी कम हो गया है. अब बिलों के भुगतान में और अधिक तेजी लाएं जाने के मकसद से ही इस नई प्रोत्साहन योजना की शुरुआत की गई है.

यह भी पढ़े -   खुशी: 10 साल पहले लापता हुआ बेटा राजस्थान में मिला, खुशी से निकले मां के आंसू

घाटे से मुनाफे में आया बिजली निगम

गौरतलब है कि हरियाणा में उत्तरी हरियाणा बिजली वितरण निगम और दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम है. हरियाणा विद्युत नियामक आयोग के अंतर्गत यें दोनों निगम कार्यरत हैं. प्रदेश में बिजली उपभोक्ताओं की संख्या करीब 70 लाख है. खास पहलू यह है कि कुछ समय पहले तक हरियाणा के दोनों ही बिजली निगम घाटे में चल रहे थे.

इसकी सबसे बड़ी वजह बिजली का लाइन लॉस था. 2014 में बिजली का लाइन लॉस करीब 31% था. अब यह घटकर मात्र 15% रह गया है. चालू वित्त वर्ष में बिजली निगम अब तक करीब 657 करोड़ रुपए मुनाफे में है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल की दूरदर्शी सोच के चलते हीं कुछ साल पहले म्हारा गांव-जगमग गांव योजना की शुरुआत की गई. इसके अंतर्गत प्रत्येक गांव में 24 घंटे बिजली आपूर्ति देने का लक्ष्य रखा गया. अभी तक इस योजना के तहत राज्य के 5500 गांवों में 24 घंटे बिजली आपूर्ति की जा रही है.

यह भी पढ़े -   रेलवे इन युवकों को कभी नहीं देगा नौकरी, रेल मंत्रालय ने जारी किए आदेश

ऐसे होगा उपभोक्ताओं का चयन

निगम के संबंधित उपमंडल अधिकारी गांव के स्कूल, चौपाल, पंचायत घर में जाकर निगम के मानदंडों पर खरा उतरने वाले उपभोक्ताओं का चयन करेंगे और यह प्रकिया व पुरस्कार राशि का वितरण पारदर्शी तरीके से होगा. इस प्रोत्साहन योजना में केवल वही ग्रामीण बिजली उपभोक्ता पात्र होगे जिन्होंने अपने नवीनतम बिजली बिल का भुगतान किसी भी डिजिटल माध्यम से किया होगा.

बिजली सुधारीकरण की दिशा में प्रभावी कदम

सीएम मनोहर लाल ने ट्वीट किया कि दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम ने बिजली बिलों के ऑनलाइन भुगतान को बढ़ावा देने हेतु ग्रामीण बिजली उपभोक्ताओं के लिए प्रोत्साहन योजना शुरू की है. मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले सात वर्षों में बिजली सुधारीकरण की दिशा में कई प्रभावी कदम उठाते हुए बिजली उपभोक्ताओं के लिए लाभकारी योजनाएं शुरू की है. इससे बिजली उपभोक्ताओं की वर्षों पुरानी समस्याओं का समाधान हुआ है तो बिजली विभाग का राजस्व भी बढ़ा है.

यह भी पढ़े -   क्या उम्मीदों पर खरा उतरेगा बजट 2022, जानें आम बजट से जुड़ी सबसे बड़ी उम्मीदें

इस योजना के तहत अब दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के सभी श्रेणी के उपभोक्ता डिजिटल माध्यमों से अपने बिजली बिल का भुगतान बिना किसी शुल्क के घर बैठे अपने मोबाइल फोन, कम्प्यूटर या लैपटॉप द्वारा कर सकते हैं. अगर उपभोक्ता बिजली बिलों का भुगतान बिना किसी देरी के करते रहे तो उन्हें जुर्माने से छुटकारा तों मिलेगा ही, साथ ही निगम उपभोक्ताओं को और अधिक सुविधाएं प्रदान करने में सक्षम होगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!