अब हरियाणा का पुराना रिकॉर्ड पूरी तरह से होगा डिजिटल, 19 करोड़ दस्तावेज अपलोड

चंडीगढ़ | हरियाणा प्रदेश के मुख्य सचिव संजीव कौशल ने सूबे में चल रहे डिजिटाइजेशन की मुहिम को तेज करने के लिए कहा है. प्रदेश के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग में पहले ही जिला स्तर पर आधुनिक रिकार्ड रूम तैयार कर लिए गए हैं. अब पुरानी फाइलों दस्तावेजों को घंटों तलाश करने का सिलसिला लगभग बहुत ही कम हो गया है. इसके साथ ही राज्य सरकार के निर्देशों पर मुख्य सचिव ऑफिस के अहम शाखाओं के अहम दस्तावेजों को डिजिटल करने की मुहिम चल रही है. एक क्लिक करने से पुराने से पुरानी कोई भी सूचना दस्तावेज फाइल एक क्लिक पर तलाश की जा सकेगी.

यह भी पढ़े -   Haryana News: हरियाणा में लंपी बीमारी का बरस रहा कहर, 150 गायों की हो चुकी है मौत

sanjeev

मुहिम का असर

गठन के बाद से लेकर अब तक हुए फैसलों मुख्य सचिव ऑफिस की ओर से जारी होने वाले आदेशों के साथ-साथ फाइलों, दस्तावेजों, सूचनाओं को डिजिटल करने की मुहिम चलाई जा रही है. जिसके बाद में हरियाणा सरकार और मुख्य सचिव ऑफिस से जुड़े अहम जानकारी सूचनाओं के लिए खोज करने में समय की बर्बादी के सिलसिले पर रोक लग जाएगी. यहां पर उल्लेखनीय है कि हरियाणा सचिवालय के नौवें फ्लोर पर हरियाणा गठन के बाद से अब तक रिकार्ड सहेज कर रखा जाता है. वहीं, कुछ वक्त पहले ही मुख्य सचिव ऑफिस की शाखाओं के रिकॉर्ड को भी पूरी तरह से डिजिटल रखने की बात हुई थी. जिसके तहत गोपनीय ढंग से भी अपलोड कराने वाले वक्त में इस्तेमाल के लिए तैयार किया जा रहा है.

कुल मिलाकर जल्द ही राज्य के गठन के बाद से लेकर अभी तक फाइनल हो जाने के बाद में समय और धन की बर्बादी थम जाएगी. साथ ही पुरानी जानकारी सर्च करने पर मिनटों का वक्त लगेगा. इतना ही नहीं पुराने दस्तावेजों के प्रिंट अब परमिशन के साथ इस्तेमाल भी हो सकेंगे. बता दें कि मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद काम में तेजी लाई गई है.

यह भी पढ़े -   DED Haryana Admission 2022: हरियाणा डीएलएड कोर्स में दाखिले की प्रक्रिया शुरू, यहां देखें शेड्यूल

हर जिले में डिजिटल रिकॉर्ड रूम तैयार

मुख्य सचिव हरियाणा पद की बागडोर संभालने से पहले हरियाणा के राज्य सरकार आपदा प्रबंधन विभाग में जिम्मेदारी संभाल रहे संजीव कौशल ने वहां पर भी दुर्लभ और पुराने रिकॉर्ड को लेकर एवं आदेश जारी करते हुए हक जिलों में डिजिटल रिकॉर्ड रूम तैयार करने के आदेश दिए थे. जिसके बाद में हर जिले में चली खास मुहिम के बाद जिलों में रिपोर्ट तैयार कर लिए गए थे.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!