1 अक्टूबर से शुरू होगी धान की खरीद, किसान खुद कर सकेंगे शेड्यूलिंग

चंडीगढ़ | हरियाणा प्रदेश में इस बार धान की सरकारी खरीद एक अक्टूबर से शुरू होने जा रही है. इस साल प्रदेश सरकार ने सुविधा प्रदान की है कि किसान धान सहित अन्य फसल बेचने के लिए खुद ही शेड्यूलिंग कर सकेंगे. खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के एसीएस अनुराग रस्तोगी ने बताया कि भारत सरकार के कृषि सचिव सुधांशु पांडे और उन्होंने संयुक्त रुप से प्रदेश की कई मंडियों का दौरा किया है. उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि ‘मेरी फसल-मेरा ब्योरा’ पोर्टल पर अब तक साढ़े सात लाख किसानों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है.

यह भी पढ़े -   डेंगू की बढ़ती रफ्तार को लेकर स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने ली हाई लेवल मीटिंग, अधिकारियों को दिए ये निर्देश

peddy dhan

अबकी बार प्रदेश की विभिन्न मंडियों में करीब 60 लाख टन धान की खरीद होने का अनुमान है. उन्होंने कहा कि धान खरीद के लिए 199, मूंग के लिए 38, बाजरा के लिए 86, मक्का के लिए 19 और मूंगफली के लिए 7 मंडियां खोली गई है. मक्का, बाजरा, धान और मूंग की खरीद 1 अक्टूबर व मूंगफली की खरीद 1 नवंबर से शुरू हो जाएगी. उन्होंने बताया कि फसल खरीद के लिए अतिरिक्त केन्द्र की व्यवस्था भी की गई है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा सुपर-100 कार्यक्रम लाया रंग: सरकारी स्कूल के 26 विद्यार्थियों का आईआईटी चयन

उन्होंने कहा कि फसलों की पेमेंट का सीधा भुगतान किसानों के खाते में किया जाएगा. सरकार द्वारा खरीद के व्यापक स्तर पर प्रबंध किए गए हैं. फसल बेचने के लिए मंडी में आएं किसानों को उनकी फसल बेचने में तोलने,बारदाना, बिजली, पानी आदि की कोई समस्या नहीं आने दी जाएगी. किसान जैसे ही मंडी में धान लेकर पहुंचेगा तो उनको तत्काल सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में गेटपास काटकर दें दिया जाएगा. कमेटी के कर्मचारी 24 घंटे गेटपास काटने के लिए तैयार रहेंगे.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!