हरियाणा में ऑनलाइन राशन कार्ड बनाने की प्रक्रिया फिर होगी शुरू, डेढ़ साल से थी बंद

चंडीगढ़ | हरियाणा में पिछले डेढ़ साल से आम जनता के राशन कार्ड नहीं बन रहे हैं. लेकिन लंबे समय के बाद कुरुक्षेत्र और हिसार में एक बार फिर से यह प्रक्रिया शुरू की गई है. दूसरी तरफ दूसरे जिलों के लोगों का यह इंतजार अभी खत्म नहीं हुआ है. तो वहीं खाद्य एवं आपूर्ति विभाग ने पूरे राज्य में राशन कार्ड बनाने की फाइल सरकार को नहीं भेजी है. सरकार से मंजूरी मिलने के बाद ही राज्य में राशन कार्ड बनाने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी.

यह भी पढ़े -   आदमपुर उपचुनाव की तारीख का ऐलान, यहां पढ़ें चुनाव से रिजल्ट तक का शेड्यूल

Haryana Ration Card

जानकारी के मुताबिक, इस बार सभी राशन कार्ड ऑनलाइन किए जाएंगे. लेकिन, इस बार खास बात यह है कि बीपीएल और एएवाई कार्ड में परिवार को पहचान पत्र में दर्ज आय के अनुसार बनाया जाएगा. आपको बता दें कि एएवाई कार्ड उन परिवारों के लिए बनाए जाएंगे जिनकी सालाना आय 1.20 लाख रुपये है. वहीं 1.20 से 1.80 लाख रुपये सालाना आय वाले लोगों के लिए कार्ड बनाए जाएंगे. इसके लिए सभी पात्र उम्मीदवारों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा.

आपको बता दें कि राज्य सरकार ने फरवरी 2022 में पारिवारिक पहचान पत्र की वजह से नए राशन कार्ड पर रोक लगा दी थी. राज्य में अब तक 67 लाख पहचान पत्र बनाए जा चुके हैं और केवल 27 लाख के पास ही राशन कार्ड हैं.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में कल बज सकता है पंचायत चुनाव का बिगुल, इस तरह रहेगा शेड्यूल

पहले ऑनलाइन आवेदन करना होगा

जो भी राशन कार्ड बनवाना चाहता हैं उसे ऑनलाइन आवेदन करना होगा. राज्य सरकार ने पारिवारिक पहचान पत्र के कारण फरवरी 2022 में नए राशन कार्ड पर रोक लगा दी थी. राज्य में अब तक करीब 67 लाख परिवार पहचान पत्र (पीपीपी) बन चुके हैं, जबकि 27 लाख राशन कार्ड ही थे. शादी के बाद ससुराल आने वाली महिलाओं का ढाई साल तक राशन कार्ड में नाम नहीं जुड़ पा रहा है. इस कारण उनका वोटर कार्ड नहीं बन पाया क्योंकि वोटर कार्ड के लिए दो पहचान पत्र (आईडी) की जरूरत होती है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!