हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला का बयान, जल्द ही गिरने वाली है केंद्र सरकार

Casino

चंडीगढ़ । हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला मंगलवार को तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में यूपी गेट पर जारी धरने का समर्थन करने पहुंचे. उन्होंने इस दौरान भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत से मुलाकात कर हर परिस्थिति में साथ देने का वादा किया है. इंडियन नेशनल लोकदल के मुखिया ओमप्रकाश चौटाला ने यहाँ पर यह भी कहा कि पूरा प्रदेश इससे प्रदर्शन के साथ है. प्रदर्शन का परिणाम जो भी हो लेकिन केंद्र सरकार जल्द ही गिरने वाली है.

यह भी पढ़े -   टोक्यो ओलम्पिक में मैडल जीता तो 5 दिन तक चंडीगढ़ में फ्री की सैर, जानें पूरी स्टोरी

Om Prakash Chautala

दरअसल दोनों कृषि कानूनों के खिलाफ़ यूपी गेट पर नवंबर से प्रदर्शन जारी है. मंगलवार को हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और इंडियन नेशनल लोकदल के नेता ओमप्रकाश चौटाला यूपी गेट पर पहुंचे. बीते 2 जुलाई को ही वह दिल्ली की तिहाड़ जेल से रिहा हुए हैं. शिक्षक भर्ती घोटाले में उन्हें 10 साल की सजा हुई थी. ओम प्रकाश चौटाला ने राकेश टिकैत से मुलाकात करते हुए अपना समर्थन दिया है.

उन्होंने आगे कहा- कि आज पूरा देश कृषि कानूनों के विरोध में खड़ा है. जहाँ भी देखो किसान परेशान हैं. मंडियो में उनका अनाज खरीदने वाला कोई नहीं है. यही कारण है कि सरकार में सहभागी पार्टियां उनसे अलग हो रही हैं. ओमप्रकाश चौटाला ने यह भी कहा कि सरकार जल्द ही अल्पमत में आ जाएगी. सरकार गिरेगी और मध्यावधि चुनाव करवाने ही पड़ेंगे.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में अब मोबाइल ऐप के माध्यम से मिलेंगे पेड़-पौधे, जानिए हरियाणा सरकार की नई योजना

वहीं किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा- कि किसान संसद पहुँचकर सांसदों को जगाने का प्रयास करेंगे. उन्होंने तीनों नए कृषि कानून रद्द करने की मांग की है. आगे कहा कि ओमप्रकाश चौटाला के आने से उन्हें एक नई ऊर्जा मिल सकती है. बुधवार को यूपी गेट पर किसान शहीद स्मृति दिवस मनाया जाएगा. 31 जुलाई 1980 के दिन कर्नाटक में फायरिंग में दो किसानों की मौत हुई थी, उनकी स्मृति में ये दिवस मनाया जायेगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!