भारत में जल्द किया जाएगा जानवरों का वैक्सीनेशन, वैज्ञानिकों ने खोजी दवा

हिसार । इंसानों की तरह अब देश में जल्द ही जानवरों को भी कोविड-19 की वैक्सीन लगाई जाएगी. इसके लिए हिसार के राष्ट्रीय अश्व अनुसंधान केंद्र के विज्ञानी जोर शोर से कार्य कर रहे हैं. बता दें कि वैक्सीन को विकसित कर लिया गया है. अब पहले इसे चूहों को दिया जाएगा और फिर कुत्तों को, फेज पूरा होने के बाद ही वैक्सीन को बाजार में लाने की तैयारी की जाएगी. इसके लिए प्राइवेट कंपनी से करार किया जा रहा है.

यह भी पढ़े -   कोरोना के नये वेरिएंट मिलने से दुनियाभर में फैली दहशत, पाबंदियां शुरू

corona vaccine

जल्द लगाई जाएगी जानवरों को कोविड-19 वैक्सीन

वही वैज्ञानिकों का कहना है कि वैक्सीन बनाने के काम को पूरा कर लिया गया है. अब आगे के फेजों में कार्य करने की तैयारी चल रही है. बता दे कि जानवरों की वैक्सीन बनाने का प्रोजेक्ट भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद ने एनआरसीई सहित देश के 3 संस्थाओं को दिया है. जिसमें बरेली के इज्जत नगर से इंडियन वेटरनरी रिसर्च इंस्टीट्यूट व भोपाल स्थित नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ हाई सिक्योरिटी एनिमल डिजीज भी शामिल है.

यह भी पढ़े -   मशरूम की खेती से हरियाणा के किसान ने कमाए लाखों रुपए, जानिए कैसे शुरू करे यह काम

बता दे कि देश में कुछ समय पहले ही हैदराबाद में एशियन शेर में और इटावा की लायन सफारी में भी कोविड-19 संक्रमित पशु मिले थे. जिसके बाद यह खुलासा हुआ कि इंसानों से पशुओं में कोरोनावायरस फैल सकता है. ऐसे में पशुओं का भी वैक्सीनेशन किया जाना आवश्यक है. जानवर से मिले वायरस पर इस दवा को प्रयोग करने से सकारात्मक परिणाम सामने आए. वही एनआरसीई के निदेशक डॉ यशपाल के निर्देशन में यह कार्य किया जा रहा है.

वैक्सीन विकसित करने वाली टीम में शामिल वरिष्ठ विज्ञानी डॉ गुलाटी बताते हैं कि वैक्सीन बनाने के लिए पहले कोविड-19 वायरस को कमजोर किया गया. इसके बाद इस वायरस का प्रयोग वैक्सीन बनाने की प्रक्रिया में किया जा रहा है. इस कार्य में भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद का अतुलनीय योगदान रहा है. बता दें कि वैक्सीन बनाने से पहले विज्ञानियों ने पशुओं में कोविड-19 का प्रभाव देखने को सर्विलांस का कार्य किया. हरियाणा में 400 पशुओं पर यह कार्य किया गया.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!