हरियाणा को मिली 3 लाख डोज, 66 लाख की है मांग, 18+ का टीकाकरण धीमा

चंडीगढ़ । हरियाणा में 18 से 44 साल के लोगों के टीकाकरण का अभियान शुरू किया जाना था, यह अभियान बड़े स्तर पर शुरू नहीं हो पाया . इसका प्रमुख कारण वैक्सीन की कमी होना है. हरियाणा की तरफ से कोरोना वैक्सीन की 66 लाख डोज आर्डर की गई थी. लेकिन हरियाणा को सिर्फ 3लाख डोज ही मिल पाई है. पहली खेप में मिली तीन लाख डोज मे से ज्यादातर हॉटस्पॉट बने जिलों में आवंटित की जाएगी.

vaccination

वैक्सीन की कमी के कारण अभियान नहीं हुआ बड़े स्तर पर शुरू

अब जिले में वैक्सीन की कमी है जिसकी वजह से युवाओं के टीकाकरण में कमी आएगी. 10 मई तक हरियाणा में लॉकडाउन लगा दिया गया है. इसका साफ असर टीकाकरण पर भी दिखाई दे सकता है. स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि आने वाले कुछ दिनों में वैक्सीन की खेप मिल जाएगी. लेकिन अभी तक इसके लिए कोई तारीख निर्धारित नहीं की गई है. बता दे कि हरियाणा में 18 से 44 साल के करीब एक करोड़ लोगों को टीका लगाया जाना है. इसके लिए प्रदेश सरकार की ओर से ढाई सौ करोड रुपए की 50 लाख डोज का आर्डर दिया जा चुका है.

यह भी पढ़े -   फतेहाबाद नागरिक अस्पताल से मृत शरीर गायब, मचा हड़कंप

इससे पहले भी 10 लाख और छह लाख के आर्डर किए जा चुके हैं. इन ऑर्डर के मुताबिक कुल मिलाकर66 लाख डोज हरियाणा में आनी है. इसी में से केंद्र की ओर से हरियाणा को कोविशिल्ड की 3.19 व वैक्सीनेशन की 1.10 लाख डोज आवटित की गई थी. इनमें से 3लाख डोज की खेप 1 मई को पहुंची थी. बता दे कि अब तक प्रदेश में कुल 38 लाख से अधिक लोगों को टीका लगाया जा चुका है. इनमें से 18 से 44 साल के लोगों की संख्या नाममात्र है. प्रदेश मे इनके लिए 1 मई से टीकाकरण शुरू हुआ है.

यह भी पढ़े -   कोरोना की चैन तोड़ने के लिए 21 दिन का सम्पूर्ण लाकडाउन लगा सकती है मोदी सरकार, सेना को किया गया है अलर्ट

पंजीकरण हो रहा है लेकिन तारीख व केंद्र नहीं मिल रहे

बता दें कि 18 से 44 साल के लोगों को कोविड पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी है. युवाओं द्वारा भारी संख्या में पंजीकरण करवाया गया. लेकिन डोज कम होने के कारण अस्पताल या टीकाकरण केंद्र नहीं दिख रहा है. अमन और प्रवीण कुमार ने बताया कि वे 2 दिनों से कोशिश कर रहे हैं, लेकिन उन्हें पंजीकरण केंद्र और तारीख नहीं मिल पा रही.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!