DSP मर्डर के बाद खनन माफियाओं पर एक्शन में हरियाणा सरकार, SIT गठित करने के आदेश

फरीदाबाद | हरियाणा के नूंह जिलें में खनन माफियाओं द्वारा जिस तरह से डीएसपी सुरेन्द्र सिंह बिश्नोई को मौत के घाट उतारा गया, उससे हर किसी के मन में एक ही सवाल खड़ा हो रहा है कि प्रदेश में बेखौफ अपराधियों और खनन माफियाओं को आखिर किसका संरक्षण प्राप्त हैं,जो उन्होंने पुलिस के एक बड़े अधिकारी को डंपर के नीचे कुचलकर सरेआम मौत की नींद सुला दिया. वहीं इस मामले पर सूबे के खनन मंत्री मूलचंद शर्मा का बयान सामने आया है. उन्होंने इस हत्याकांड पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि हरियाणा में भी बदमाशों का हाल यूपी जैसा किया जाएगा,बस आप थोड़ा सा इंतजार कीजिए.

यह भी पढ़े -   हरियाणा: शहीद मनोज भाटी के परिवार से मिले सीएम खट्टर, किए ये बड़े ऐलान

cm and dushant

वहीं खनन मंत्री मूलचंद शर्मा ने इन लोगों को खनन माफिया न कहकर पत्थर चोर की संज्ञा देते हुए कहा कि मंत्री बनने के बाद जब वो इस इलाके में औचक निरीक्षण करने पहुंचे थे तो उनकी गाड़ी पर भी इन लोगों ने पत्थरों से हमला कर दिया था. गुरुग्राम, फरीदाबाद, नूंह व मेवात खनन क्षेत्र नहीं है . इन इलाकों में खनन पर रोक व लीगल पचड़े चल रहे हैं, जहां पर इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया है.

मूलचंद शर्मा ने कहा कि सुरेन्द्र बिश्नोई जैसे बहादुर अफसर की मौत का पूरे देश को गम है. उन्होंने कहा कि अरावली क्षेत्र में इन पत्थर चोरों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी. इन इलाकों में हमने पहले भी व्यापक स्तर पर कार्रवाई की है और बड़ी संख्या में डंपर तथा बाकी वाहन जब्त किए हैं. उन्होंने बताया कि इस मामले को लेकर दस टीमें गठित की गई है. सभी टीमें सक्रिय हैं तथा मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी के बाद कुछ अन्य लोगों की भी गिरफ्तारी हो सकती है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा: शहीद मनोज भाटी के परिवार से मिले सीएम खट्टर, किए ये बड़े ऐलान

SIT गठित करने के आदेश

वहीं खनन माफियाओं द्वारा डंपर से कुचल कर डीएसपी सुरेन्द्र सिंह बिश्नोई की निर्मम तरीके से हत्या के मामले में गृहमंत्री अनिल विज ने डीजीपी पीके अग्रवाल को एसआईटी गठित करने का आदेश दिया है. उन्होंने बताया कि पूरे मामले में पुलिस दिन रात काम कर रही है और मुख्य आरोपी इशाक को राजस्थान के भरतपुर से गिरफ्तार कर लिया गया है. मुख्य आरोपी से पूछताछ के बाद कुछ बड़े आरोपियों को भी जल्द ही दबोचा जाएगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!