बेटियों को पढ़ाने व बचाने का संदेश दे रहा हरियाणा का यह गांव, मिला अवार्ड

फतेहाबाद । उपायुक्त कार्यालय में पीसी एंड पीएनडीटी के तहत बेस्ट विलेज अवार्ड 2020-21 के लिए गांव ढिंगसरा की मैट्रिक टापर्स तीन लड़कियों को एक लाख पचास हजार रुपए की राशि देकर सम्मानित किया. छात्राओं का मनोबल बढ़ाते हुए उपायुक्त डॉ नरसिंह बांगड़ ने कहा कि इस योजना के बारे में अन्य विधार्थियों को भी अवगत करवाना है. उपायुक्त ने गांव ढिंगसरा के शांति निकेतन सीनियर सेकेंडरी स्कूल की तीन छात्राएं सोनिका पुत्री सज्जन कुमार, संजोकता पुत्री नरेन्द्र कुमार व मानसी पुत्री विजेन्द्र को 7 हजार रुपए,45 हजार रुपए व 30 हजार रुपए की राशि देकर सम्मानित किया.

यह भी पढ़े -   डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला का जींद में भारी विरोध, किसानों ने कहा नहीं घुसने देंगे

Girl Students

उपायुक्त ने कहा कि व्यक्ति के जीवन में सफलता का आधार ही शिक्षा है. शिक्षा के बलबूते व्यक्ति जीवन में किसी भी लक्ष्य को हासिल कर सकता है. व्यक्ति को आगे बढ़ने के लिए अपना लक्ष्य निर्धारित करना चाहिए.

गांव ढिंगसरा का लिंगानुपात रहा 1448

सीएमओ डॉ मनीष बंसल ने बताया कि पीसी एंड पीएनडीटी एक्ट के तहत बेस्ट विलेज अवार्ड 2020-21 के तहत एक लाख पचास हजार रुपए की राशि जिला फतेहाबाद को आवंटित की गई. बेस्ट विलेज अवार्ड के दिशा निर्देशों अनुसार इसमें गांव की आबादी 5000 से अधिक होती है व लिंगानुपात जिले में सर्वाधिक होता है. उस गांव में दसवीं में प्रथम, दि्वतीय व तृतीय आने वाली लड़कियों को प्रोत्साहन राशि के रूप में एक लाख पचास हजार रुपए की राशि ईनाम के तौर पर दी जाती है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!