हिसार के निजी अस्पताल में आक्सीजन की कमी से 5 मरीजों की मौत

हिसार । जिले में कोविड 19 महामारी के चलते एक निजी अस्पताल की बड़ी लापरवाही सामने आई है. निजी अस्पताल में आक्सीजन की कमी के चलते पांच कोरोना पाज़िटिव पेशेंट्स की मौत हो गई. मरीजों की मौत की खबर मिलते ही परिजनों ने अस्पताल के बाहर जमकर हंगामा किया. तनाव की स्थिति उत्पन्न होने से अस्पताल के बाहर भारी पुलिस बल तैनात करना पड़ा. अपनों को खोने के गम में डूबे परिजनों ने अस्पताल में बने कोविड सेंटर को तुरंत बंद करने की मांग की ताकि अपनों को खोने का गम जो आज वे झेल रहे हैं, वह दर्द किसी ओर को ना झेलना पड़े.

यह भी पढ़े -   लॉकडाउन के कारण दिहाड़ी मजदूरों के सामने रोजी-रोटी का संकट, 16 दिन से चावल खाकर कर रहे हैं गुजारा

hisar latest news

जानकारी के अनुसार जाट कालेज के पीछे वाली गली में सोनी बर्न हस्पताल में कोविड सेंटर बनाया गया है. कोविड सेंटर में कोरोना संक्रमित मरीजों की इलाज के दौरान आक्सीजन की कमी होने से मृत्यु हो गई. परिजनों ने आरोप लगाया कि आक्सीजन की व्यवस्था करना हस्पताल प्रबंधन का काम है लेकिन अस्पताल प्रशासन ने खुद प्रबंध करने की बजाय उन्हें आक्सीजन लेने के लिए भेज दिया.

यह भी पढ़े -   अगले तीन घण्टों में हिसार, भिवानी समेत इन जिलों में बारिश की संभावना, जाने जिलों के नाम

परिजनों का कहना था कि हमने पैसे हमारे मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध हो सके, इसके लिए खर्च किए थे. लेकिन अस्पताल प्रशासन ने हमें अंधेरे में रखा. उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों पर भी सवाल उठाए कि जब यहां पर पुरी चिकित्सीय सुविधाएं उपलब्ध नहीं है तो कोविड सेंटर बनाने की अनुमति क्यों दी गई. उन्होंने सरकार से सोनी बर्न हस्पताल के कोविड सेंटर को बंद करने व अस्पताल प्रशासन पर कड़ी कार्रवाई की मांग की.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!