सोनाली फोगाट मर्डर मामला: यहाँ जाने कौन है सुधीर और सुखविंदर, पढ़े इनकी पूरी हिस्ट्री

हिसार | सोनाली (Sonali Phogat) की मौत के बाद से उनके पीएम सुधीर और दोस्त सुखविंदर से लगातार पूछताछ हो रही है. 2019 में जब हरियाणा विधानसभा चुनाव हुए, तो बीजेपी ने आदमपुर से सोनाली फोगाट को अपना उम्मीदवार घोषित किया. इसी दौरान सोनाली के संपर्क में सुधीर सांगवान और सुखविंदर आया. चुनाव खत्म होते ही सुधीर सोनाली के पीए के तौर पर काम करने लगा. बाद में सुखविंदर भी सोनाली के संपर्क में आया. सुधीर जहां रोहतक का रहने वाला है, समय के साथ दोनों ने सोनाली का विश्वास जीत लिया.

SONALI

सुधीर सांगवान बरोदा का रहने वाला

सुधीर सांगवान सोनीपत जिले के बरोदा क्षेत्र के बुटाना खेड़ा के रहने वाले हैं. बुटाना और आसपास के कई गांव सांगवानों द्वारा बसे हुए हैं. सुधीर सांगवान इसी खेड़ा गांव का रहने वाला है.सुधीर सांगवान 2018 से सोनाली फोगाट के साथ हैं. जून 2019 से वह पूरी तरह से सोनाली के साथ रहने लगा. वह सोनाली के निजी सहायक हुआ करता था. जींद-रोहतक मार्ग पर सुधीर सांगवान का फार्म हाउस भी है. जिसके बाहर आपको बोर्ड पर एडवोकेट सुधीर सांगवान लिखा हुआ मिलेगा.

सुखविंदर है राजनीति से जुड़ा

मिली जानकारी के अनुसार सुखविंदर वर्षों से सिरसा विधायक गोपाल कांडा से जुड़े हुआ है. जो पिछले 10 साल से गुरुग्राम में रहता है. उसकी पत्नी और माता-पिता गांव में रहते हैं. आरोपी सुखविंदर के पिता धरम सिंह किसान हैं. लेकिन सुखविंदर ने छोटी उम्र में ही बड़े सपने देखना शुरू कर दिया था. बताया जा रहा है कि गोपाल 2008 में कांडा से जुड़ा था. फिर 2009 का विधानसभा चुनाव सिरसा में प्रचार के दौरान देखने को मिला. गोपाल कांडा की जीत के बाद उनके काफी करीबी हो गया. 2011 में राज्य सरकार के तत्कालीन गृह मंत्री गोपाल कांडा सुखविंदर के निमंत्रण पर अपने गांव मदौला आए थे.

यह भी पढ़े -   सोनाली फोगाट के परिवार ने BJP नेता पर लगाया हत्या का आरोप, खाप पंचायत ने दिया अल्टीमेटम

गलती की है तो उसे सजा भुगतनी होगी

एक साधारण किसान का बेटा सुखविंदर कम समय में खुद को बड़ा व्यापारी बताने लगा. उसे लग्जरी कारों का शौक था. उसने गुरुग्राम में एक हवाई जहाज कंपनी में एक बड़े पद पर नौकरी करने का भी दावा किया. दादरी जिले के पहाड़ी इलाके में क्रोशर भी स्थापित कर लिया था. लेकिन उसके बाद गुरुग्राम रहने लगा और गांव में आना-जाना कम होने लगा. सुखविंदर की शादी 5 साल पहले हुई थी, उसकी पत्नी भी गांव में रहती है. पिता धर्म सिंह ने कहा कि अगर उनके बेटे ने गलती की है तो उसे सजा भुगतनी होगी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!