अघोषित बिजली कटों से परेशान बहादुरगढ़ के उद्योग, हो चुका है करोड़ों रुपए का नुकसान

बहादुरगढ़ । प्रदेश में बिजली के कटों का असर अब उद्योग पर भी पड़ने लगा है. बता दें कि यहां के जूता उद्योग समेत सामान्य औद्योगिक इकाइयों में बिजली के कटो की वजह से उत्पादन 50% कम हो गया है. फुटवियर से जुड़ी 95% फैक्ट्रियों ने नाईट शिफ्ट को बंद कर दिया है.

factory

बिजली के कटो की वजह से औद्योगिक इकाइयों का उत्पादन हुआ कम 

बिजली के कटो की वजह से जो औद्योगिक इकाइयां 24 घंटे चल रही थी,  अब वह केवल 10 से 11 घंटे ही चल पा रही है. वही बीच-बीच में डीजी सेट चलने से फैक्ट्रियों का खर्च भी काफी बढ़ गया है. इस तरह बिजली कटों की मार से यहां उद्यमियों को खासा नुकसान उठाना पड़ रहा है. उद्यमियों ने सरकार से पर्याप्त मात्रा में बिजली सप्लाई देने की मांग की है.

साथ ही घोषित व अघोषित कट की समय रहते जानकारी देने की भी मांग की गई है, ताकि फैक्ट्रियों में उत्पादन उसी के अनुसार शुरू हो सके. बता दें कि बहादुरगढ़ चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के संयुक्त सचिव और यूनिस्तर फुटवियर के मालिक हरिशंकर बाहेती ने बताया कि बहादुरगढ़ में छोटी-बड़ी करीब 2000 फुट बियर फैक्ट्री है. यहां पर देश का सबसे बड़ा नान लेदर फुटवियर पार्क है, बिजली की सप्लाई ना होने की वजह से 95% फैक्ट्रियों में नाइट शिफ्ट को बंद कर दिया है.

यह भी पढ़े -   खाना खाने के बाद क्यों चलना चाहिए पैदल? जानिए टहलने के शानदार फायदे

दिन में भी अब महज 10 से 11 घंटे ही फैक्ट्रियां चल पा रही है. वही कंपनियों का उत्पादन घटकर 50% रह गया है, जिससे उन्हें काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है. कानफेडरेशन ऑफ बहादुरगढ़ इंडस्ट्री के प्रधान एवं रबड़ उत्पाद बनाने वाली फैक्ट्री के मालिक प्रवीण गर्ग ने कहा कि बिजली कटों ने फैक्ट्रियों को काफी नुकसान पहुंचाया है, इस वजह से इंडस्ट्री को करोड़ों रुपए का नुकसान हो चुका है. बिजली पर करीब 10 रूपये प्रति यूनिट का खर्च होता था, अब जरूरत के आर्डर पूरे करने के लिए डीजी सेट चलाना पड़ रहा है जिस पर खर्च 18 से 20 रूपये प्रति यूनिट है. वही गर्मी के मौसम में लगातार जनरेटर भी नहीं चलाया जा सकता.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!