हरियाणा के चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय में शुरू होगा यह स्पेशल पीजी डिप्लोमा, छात्रों के लिए खुलेंगे रोजगार के रास्ते

जींद | हरियाणा के जींद स्थित चौधरी रणबीर सिंह विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों के लिए अच्छी खबर आई है. विश्वविद्यालय में अब जियो इनफॉर्मेटिक्स साइंस में पीजी डिप्लोमा कोर्स शुरू किया जाएगा. इसके लिए सीआरएसयू और स्काईलाइन जियो इनफॉर्मेटिक्स संस्था, रोहतक के बीच एमओयू पर हस्ताक्षर भी हो चुके हैं.

IMG 20240621 WA0051

1 साल के प्रयास आज हुए सफल- डॉ. मलिक

इस बारे में जानकारी देते हुए भूगोल विभाग के इंचार्ज डॉक्टर सत्येंद्र मलिक ने बताया कि इस कोर्स को लागू करवाने के लिए किए जा रहे पिछले एक साल के प्रयास आज सफल हुए हैं. इसमें कुलपति डॉक्टर रणपाल सिंह के निर्देशन का बहुत अधिक योगदान रहा है. जियो इनफॉर्मेटिक्स में कुशल विद्यार्थियों की बहुत अधिक मांग है.

1 साल के इस कोर्स में विद्यार्थियों को आधुनिक विज्ञान जिसमें लिडार, रडार, जीपीएस सर्वेक्षण व ड्रोन मैपिंग आदि की ट्रेनिंग दी जाएगी. इस कोर्स के बाद विद्यार्थी अपना खुद का काम भी शुरू कर सकते हैं. साथ ही उनके लिए नौकरियों के रास्ते भी खुल जाएंगे.

रोज़गार परक कोर्स हैं CRSU की प्राथमिकता

विश्वविद्यालय के कुल सचिव डॉक्टर रणपाल सिंह ने इस विषय में जानकारी देते हुए बताया कि जो कोर्स विद्यार्थियों को नौकरी दिलवाने में सहायक होते हैं, ऐसे कोर्सेज को शुरू करवाने के लिए विश्वविद्यालय द्वारा हमेशा प्रयास किए जाते रहते हैं. जियो इंफॉर्मेटिक्स सब्जेक्ट की प्राइवेट और सरकारी दोनों जगह जबरदस्त डिमांड है.

ऐसे कोर्स से डिपार्टमेंट और विद्यार्थी दोनों की ही क्षमता बढ़ती है. इस अवसर पर डीन रिसर्च डॉक्टर अनुपम भाटिया, स्काइलाइन जियो इंफॉर्मेटिक्स संस्था की तरफ से निदेशक अजय पूनिया, अकेडमिक निदेशक अजय देशवाल मौजूद थे.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!