अपने घर में भूलकर भी ना बनवाए इस दिशा में टॉयलेट और किचन, वरना हो सकता है भारी नुकसान

ज्योतिष, Vastu Tips | वास्तु शास्त्र में ईशान कोण को काफी अहम दिशा माना जाता है. बता दें कि उत्तर पूर्व के बीच की दिशा को ईशान कोण कहा जाता है. इस दिशा में काफी ऐसी चीजें होती है जो हमें गलती से भी नहीं बनवानी चाहिए. वहीं दूसरी ओर कई चीजों को इस दिशा में रखना काफी शुभ माना जाता है.

vastu tips

वास्तु और ज्योतिष विशेषज्ञ पंडित मनोज कुमार मिश्रा बताते हैं कि वास्तु शास्त्र में ईशान कोण यानी कि उत्तर पूर्व दिशा का बहुत महत्व है . आज की इस खबर में हम आपको बताएंगे कि आप को इस दिशा में कौन सी चीजें रखनी चाहिए और कौन सी चीजें बिल्कुल भी नहीं रखनी चाहिए.

अपने घर में उत्तर पूरब दिशा में भूल कर भी ना रखे यह समान  

  1. उत्तर पूर्व की दिशा को पूजा घर के लिए, बाल्कनी, बरामदा भूमिगत टंकी, नलकूप, स्वागत कक्ष और वर्षा के पानी के निकास के लिए काफी अच्छा माना जाता है.
  2. कभी भी ईशान कोण या दिशा में शौचालय और किचन नहीं बनवाना चाहिए. इस दिशा में वास्तु शास्त्र के अनुसार कभी भी भार नहीं रखना चाहिये.
  3. उत्तर पूरब दिशा को काफी अच्छे ढंग से व्यवस्थित करके रखना चाहिए, क्योंकि इस दिशा में भगवान का वास होता है.
  4. यदि किसी कारण वर्ष उत्तर पूर्व दिशा से सटा हुआ किचन होता है, तो उस घर के सदस्यों का वृद्धि वंश में समस्या आती है वह धन का खर्च भी बढ़ जाता है.
  5. भगवान की दिशा गलत होने से उसका पॉजिटिव ओरा प्राप्ति में नुकसान होता है और घर के सदस्यों के बीच मतभेद की स्थिति बनी रहती है.
  6. उत्तर पूरब दिशा की ओर कभी भी कोई भारी पेड़ नहीं लगाना चाहिए, इस दिशा में तुलसी का पौधा लगाना काफी अच्छा रहता है.
  7. ईशान कोण में तिजोरी नहीं रखनी चाहिए, इससे अनावश्यक खर्च बढ़ता है. साथ ही धन चोरी होने का खतरा भी बना रहता है.
  8. उत्तर पूरब या ईशान कोण के स्वामी भगवान शिव को माना जाता है तथा इसका संबंध बृहस्पति ग्रह से है.
  9. कभी भी ईशान कोण को गोलाकार नहीं बनवाना चाहिए इसके कोणों को कभी बंद नहीं करना चाहिए.
  10. उत्तर पूरब दिशा की ओर आपको कभी भी झाड़ू या फिर कोई भारी वस्तु नहीं रखनी चाहिए. इस दिशा को काफी पवित्र माना गया है.
  11. उत्तर पूरब दिशा में टापू, पहाड़ी, झरने वाली पेंटिंग लगाना भी अशुभ होता है इससे महिलाओं के स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है.
  12. यदि किसी कारणवश ईशान कोण कटा हुआ या विकृत हो तो संतान वितरित या विकलांग पैदा हो सकती है.
  13. ईशान कोण में कचरा रखने, पत्रों का ढेर लगाने या उस को ऊंचा करने से सामाजिक तौर पर शत्रुता बढ़ती है जिससे आपके जीवन में समस्याएं भी बढ़ने लगती है.
यह भी पढ़े -   जुलाई महीने में इन 5 राशियों के जातकों की बदलने वाली है किस्मत, आय में होंगी अपार वृद्धि

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!