हरियाणा के छोरे का हुनर, कनाडा में मिली 2 करोड़ की स्कॉलरशिप

करनाल | हरियाणा की सीएम सिटी करनाल के रहने वाले परमवीर ने अपने हुनर की बदौलत बड़ी उपलब्धि हासिल की है. सेंट थेरेसा कॉन्वेंट स्कूल के स्टूडेंट परमवीर को कनाडा की नंबर -1 रैंकिंग और दुनिया भर में 17वीं रैंकिंग प्राप्त यूनिवर्सिटी ऑफ टोरंटो से 2 करोड़ रुपए की स्कॉलरशिप मिली है. स्कूल प्रिंसिपल सिस्टर प्रिया थेरेस ने जानकारी देते हुए कहा कि कनाडा के पूर्व प्रधानमंत्री बी पियर्सन के नाम पर हर साल लेस्टर बी पियरसन स्कालरशिप दी जाती है, जिसके लिए प्रतिवर्ष दुनिया भर से करीब 4 हजार स्टूडेंट्स आवेदन करते हैं और इनमें से 37 स्टूडेंट्स को स्कॉलरशिप के लिए फाइनल किया जाता है.

Paramveer Karnal

स्कूल प्रिंसिपल ने बताया कि यह स्कॉलरशिप एकेडमिक मार्क्स, खेल, समाज सेवा आदि में स्टूडेंट्स की उपलब्धियों के साथ- साथ सैट परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर सम्पूर्ण व्यक्तित्व का आंकलन करने के बाद दी जाती है. उन्होंने बताया कि 12वीं कक्षा में 95% अंक हासिल करने वाले परमवीर ने समाज सेवा में विशेष भूमिका निभाई है. कोरोना महामारी के दौर में बढ़- चढ़कर सेवा कार्यों में शामिल रहे परमवीर ने बाल शोषण व नशाखोरी के खिलाफ 22 घंटे लंबे वैबिनार का आयोजन कर वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड लंदन में शामिल होने में सफलता हासिल की थी.

परमवीर के पिता प्रीतपाल सिंह ने बताया कि परमवीर सिंह ने सैट परीक्षा में 1600 में से 1530 अंक हासिल कर अपनी जगह सुनिश्चित करने में सफलता प्राप्त की है. उन्होंने बताया कि स्कूल टाइम में बेटा स्कूल फुटबॉल इवेंट में बेहतरीन खिलाड़ी रहा है. इन्हीं सब उपलब्धियों को देखते हुए परमवीर का विश्व की इस बेहद प्रतिष्ठित स्कॉलरशिप के लिए सेलेक्शन हुआ है. बेटे की इस उपलब्धि पर हमें गर्व है और हमें उम्मीद है कि परमवीर अपनी कामयाबी से इसी तरह परिवार का नाम रोशन करता रहेगा.

यह भी पढ़े -   परमल धान किसानों के लिए साबित हो रही है सोना, MSP से 200 रुपए ज्यादा मिल रहा भाव

देश में 4 ही स्टूडेंट्स को मिली यह स्कॉलरशिप

स्कूल के टीचर जसवंत रेढढू ने बताया कि हिंदुस्तान से 4 स्टूडेंट्स का इस स्कॉलरशिप के लिए चयन हुआ है. इसमें हरियाणा के करनाल से परमवीर, हिमाचल प्रदेश से एक तथा पंजाब व चंडीगढ़ से 1-1 लड़की का चयन हुआ है. उन्होंने बताया कि परमवीर की इस उपलब्धि से न केवल स्कूल का नाम रोशन हुआ है बल्कि करनाल व पूरे हरियाणा का गौरव बढ़ाया है.

यह भी पढ़े -   गेहूं की 22 नए किस्मों को मिली मंजूरी, अब गेहूं का उत्पादन बढ़ने की उम्मीद

टीचर जसवंत रेढढू ने बताया कि लेस्टर बी पियरसन स्कालरशिप हासिल करने वाला परमवीर हरियाणा का पहला स्टूडेंट बना है. इस स्कॉलरशिप के तहत परमवीर को डिग्री कोर्स में 4 साल तक ट्यूशन फीस व होस्टल में रहने व खानेपीने के रुप में किसी तरह का शुल्क नहीं देना होगा. उन्होंने बताया कि यदि इस टोटल खर्चे का आंकलन करें तो यह एक साल का करीब 81 हजार कनाडा डॉलर बैठता है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!