इस किसान की अनोखी तकनीक का हर कोई हो रहा है कायल, कम खर्च पर ले रहा है अधिक पैदावार

कुरुक्षेत्र | हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले के गांव पिंडारसी का एक किसान नई तकनीक के जरिए न केवल जल संरक्षण का संदेश दे रहा है बल्कि परम्परागत खेती का मोह त्याग कर सब्जी की खेती कर अच्छी- खासी आमदनी भी कर रहा है. जोगेंद्र नाम के इस किसान ने कृषि विशेषज्ञों से सुझाव लेकर एक एकड़ में सब्जी की खेती की शुरुआत की. इस खेती में धान और गेहूं की बजाय कम लागत पर अच्छी आमदनी होने पर उसने पांच एकड़ भूमि पर सब्जी की खेती करना शुरू कर दिया.

यह भी पढ़े -   अरविंद केजरीवाल की रैली का जिम्मा संभालेंगे हरियाणा के मंत्री गब्बर, कही ये बड़ी बात

Fasal

कृषि विशेषज्ञों की सलाह के बाद जोगेन्दर ने टपका सिंचाई से खेती करने की शुरुआत की. उन्होंने टपका सिंचाई से आलू, मटर और धान की सीधी बिजाई कर बेहतर पैदावार ली है. फिलहाल जोगेंद्र ने दो एकड़ भूमि पर खीरे, एक एकड़ भूमि पर हरी मिर्च, एक एकड़ भूमि पर टिंडा व पौना एकड़ भूमि पर खरबूजे की फसल लगा रखी है. उसकी टपका सिंचाई से प्रभावित होकर अन्य किसान भी उसके खेत में पहुंच रहे हैं. किसान जोगेंद्र ने बताया कि इससे खेती में खर्च कम और मुनाफा अच्छा हो रहा है.

परम्परागत खेती की बजाय नई विधि को अपनाना जरूरी

कृषि विशेषज्ञों के मार्गदर्शन में जोगेंद्र ने टपका सिंचाई से एक एकड़ भूमि पर आलू की फसल की बिजाई की थी. टपका सिंचाई से खर्च कम हुआ और बेहतर पैदावार हुई. वहीं कृषि विशेषज्ञों का भी कहना है कि किसानों को परम्परागत खेती का मोह त्याग कर दलहन और सब्जियों की खेती पर जोर देना होगा. किसानों को खेती के वैज्ञानिक तरीके अपनाने होंगे ताकि कम लागत पर अच्छी पैदावार ली जा सकें.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!