Diwali 2021: दिवाली की रात जरुर खाएं यें एक चीज, उन्नति- खुशहाली को नहीं लगेगी किसी की नजर

Diwali 2021: त्यौहारी सीजन की शुरूआत हो चुकी है. धनतेरस के बाद 3 नवंबर को छोटी दिवाली,4 नवंबर को बड़ी दिवाली,5 नवंबर को गोवर्धन पूजा और 6 नवंबर को भाई दूज पर्व मनाया जाएगा. बता दें कि इन सभी त्योहारों पर देश के अलग-अलग राज्यों में खाने के लिए स्पेशल चीजें बनाई जाती है. ऐसा कहते है इन्हें खाने से गुडलक आता है.

Webp.net compress image 16

धनतेरस पर क्या खाएं

धनतेरस पर उत्तर भारत में छोटी कन्याओं को दही बताशे खिलाएं जातें हैं. बताशे को गोल-गप्पे भी कहते हैं लेकिन इनमें पानी की जगह दही का इस्तेमाल करते हैं. इसके अलावा इस दिन गुड़ की खीर,लाप्सी और पंचामृत खाना भी शुभ माना जाता है.

छोटी दिवाली पर क्या खाएं

हिंदु धर्म में मान्यता है कि कार्तिक मास की कृष्ण चतुर्दशी को बजरंग बली हनुमान जी का जन्म हुआ था. हनुमानजी को बूंदी का भोग लगाया जाता है, इसलिए इस दिन बूंदी के लड्डू खाना बहुत शुभ माना जाता है.

यह भी पढ़े -   Omicron Alert: ओमिक्रॉन अलर्ट के बीच, हरियाणा को है जीनोम अनुक्रमण मशीनों का इंतजार

दिवाली पर क्या खाएं

शुभ दीपावली पर्व पर मां लक्ष्मी को मखाने से बनी खीर का भोग लगाएं और प्रसाद के रूप में इसका सेवन करें. इसके अलावा उत्तर भारत में कई जगहों पर दिवाली की रात सूरन यानि जिमीकन्द की सब्जी खाने का प्रचलन है. दिवाली पर्व पर इस सब्जी को आमजन की उन्नति और खुशहाली से जोड़ कर देखा जाता है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा के बुजुर्ग ने किया कमाल, एक हीं दिन जीते 3 गोल्ड, जन्म से ही एक किडनी के सहारे जी रहे हैं जिंदगी

गोवर्धन पूजा पर क्या खाएं

गोवर्धन पूजा पर घर में कई स्वादिष्ट पकवान बनाए जाते हैं, लेकिन मालपुआ इनमें सबसे विशेष होता है. इस दिन मालपुआ खाने का रिवाज है.

भाई दूज पर क्या खाएं

भाई दूज पर्व पर चावल का भोजन खाना शुभ माना गया है. चावल खिलाने के पीछे यमराज और यमुना की एक पौराणिक कथा भी प्रचलित है. इस पर्व पर रोली और चावल का तिलक करने से भाई का भाग्योदय होता है. भाई दूज पर्व के साथ ही साल के सबसे बड़े त्योहारी सीजन का समापन भी हो जाता है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!