हरियाणा- दिल्ली के लिए वरदान साबित होगा अर्बन एक्सटेंशन रोड़, IGI एयरपोर्ट पहुंचना होगा आसान; जानें पूरा रूट

नई दिल्ली | राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में ट्रैफिक जाम की समस्या से निजात दिलाने के लिए चारों ओर हाइवे और एक्सप्रेस-वे का जाल बिछाया जा रहा है. इसी कड़ी में निर्माणाधीन अर्बन एक्सटेंशन रोड़ (UER-2) का काम अंतिम चरण में पहुंच चुका है और जल्द ही इस पर वाहनों की आवाजाही शुरू होगी. इस सड़क मार्ग के निर्माण से हरियाणा से IGI एयरपोर्ट पहुंचना बेहद आसान हो जाएगा.

Smart Sadak Road

इस रोड़ पर वाहनों की आवाजाही शुरू करने से पहले इसे आधुनिक सर्विलांस सिस्टम से लैस किया जाएगा ताकि हर गाड़ी को ट्रैक करने में आसानी हो सके. इससे नियम तोड़ने पर तत्काल चालान काटने की व्यवस्था बनेगी. इसके लिए एडवांस ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम (ATMS) लगाया जाएगा, जो टू-व्हीलर वाहनों की जानकारी भी आसानी से निकाल सकेगा.

75 किलोमीटर होगी लंबाई

नेशनल हाईवे ऑथोरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) के एक अधिकारी ने बताया कि 75 किलोमीटर लंबी और सिक्स लेन चौड़ी अर्बन एक्सटेंशन रोड़ कई राज्यों के वाहन चालकों के लिए बेहद ही फायदेमंद साबित होगी. इस सड़क मार्ग की शुरुआत से दिल्ली के बड़े हिस्से में ट्रैफिक दबाव कम करने में सफलता मिलेगी. वाहन चालकों को दिल्ली में एंट्री करने की जरूरत नहीं पड़ेगी. ऐसे में बड़े स्तर पर ट्रैफिक जाम से भी निजात मिलेगी.

एडवांस सिस्टम से लैस होगी सुरक्षा

उन्होंने बताया कि इस बार नेशनल हाईवे मैनेजमेंट कंपनी लिमिटेड (IHMCL) ने ऑटोमेटिक नंबर प्लेट रीडर (NAPR) कैमरों की संख्या बढ़ाने के साथ ही उनकी विजन क्वालिटी को बढ़ाया है साथ ही, सिस्टम इस तरह से काम करेगा कि अगर कोई प्रतिबंधित वाहन सड़क पर प्रवेश करता है तो तत्काल उसका अलर्ट कंट्रोल रूम और स्थानीय ट्रैफिक पुलिस को मिलेगा, जिसके बाद चालान काटने में आसानी रहेगी.

इसमें वीडियो इंसीडेंट डिटेक्शन सिस्टम (VIDS) और वीडियो इंसीडेंट डिटेक्शन एंड इंफोर्समेंट सिस्टम (VIDES) के साथ ट्रैफिक वायलेशन डिटेक्शन सिस्टम भी लगा होगा. यह सिस्टम वाहन और एनआईसी के ई-चालान सिस्टम को भी सपोर्ट करेगा, जिससे निर्धारित समय पर चालान काटने में मदद मिलेगी. नए सिस्टम को लगाने के लिए सभी नियम शर्तों को जोड़ते हुए इच्छुक कंपनियों से 4 जुलाई तक निविदा भी आमंत्रित की गई है.

हरियाणा में यहां से मिलेगी एंट्री

अर्बन एक्सटेंशन रोड-2 फरीदाबाद में दिल्ली-आगरा नेशनल हाईवे से शुरू होती है, जो दिल्ली-गुरुग्राम सीमा के पास से IGI एयरपोर्ट को जोड़ते हुए द्वारका, नजफगढ़ के रास्ते सिंघू बॉर्डर तक बनाई जा रही है. यह रोड़ एयरपोर्ट के पास द्वारका एक्सप्रेस-वे को भी जोड़ेगी, जिससे दिल्ली-जयपुर नेशनल हाईवे की तरफ जाने में भी आसानी होगी. ऐसा अनुमान है कि इस सड़क मार्ग के बनने से दिल्ली के अंदर करीब दो से ढाई लाख वाहनों का दबाव कम हो सकता है. जो ट्रैफिक जाम कम करने में महत्वपूर्ण साबित होगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!