दुखद: आसमानी बिजली गिरने से ढहा मकान, मलबे में दबने से दो बच्चों की मौत

नूंह । पुनहाना उपमंडल के एक गांव सिगांर में आसमानी बिजली आफत बन कर गिरी है. आसमानी बिजली गिरने से ढहे मकान में परिवार के छः लोग दब गए जिनमें से सात साल की बच्ची सहित एक युवक की मौत हो गई. संकट की इस घड़ी में जमीयत- ए -उलेमा की एक टीम परिजनों से मिलने गांव पहुंची. टीम के सदस्यों ने दोबारा मकान बनाने की जिम्मेदारी उठाते हुए सीमेंट और क्रेशर का खर्च वहन करने की बात कही और साथ ही एक महीने के राशन-पानी का सामान देने की बात कही. जमीयत- ए- उलेमा मेवात के जनरल सेक्रेटरी सलीम कासमी ने परिजनों को ढांढस बंधाते हुए कहा कि जो इस दुनिया से चले गए वो तो अब लौट कर आ नहीं सकतें हैं. हम आपके दुःख की घड़ी में बराबर के शरीक हैं..

यह भी पढ़े -   फ्लाईओवर की दीवार से बुलेट टकराने से भयंकर हादसा, एक युवक की मौके पर मौत दूसरे की हालत गंभीर

badal weather mausam

मिली जानकारी अनुसार शुक्रवार रात करीब तीन बजे आसमानी बिजली गिरने से गांव सिंगार में एक मकान जमींदोज हो गया था. मकान में सो रहे दो बच्चों जाहिद व लड़की साहिबा की मौत हो गई जबकि जेद,साइमा,सना, अफरोज सहित चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे. घायलों को इलाज के लिए नल्हार मेडिकल में भर्ती करवाया गया है. जमीयत- ए- उलेमा के सदस्य साबिर ने कहा कि जिस परिवार पर यह विपदा आई है ,उनकी आर्थिक स्थिति बेहद ही कमजोर है. हमारी सरकार से गुजारिश है कि उनकी आर्थिक मदद की जाएं ताकि वो अपने रहने के लिए आशियाने को फिर से खड़ा कर सकें. इस घटना से पूरे मेवात क्षेत्र में दुःख का माहौल बना हुआ है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!