बढ़ते कोरोना संक्रमण की वजह से हरियाणा में नाइट कर्फ्यू पर विचार, मुख्यमंत्री व विज की बैठक में होगा निर्णय

पंचकूला । हरियाणा में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए नाइट कर्फ्यू लगाने की तैयारी है. इसके लिए स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज सोमवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल के साथ बैठक करेंगे. फ्रंटलाइन के सभी विभागों को अलर्ट कर दिया गया है. वहीं कोरोना की वैक्सीन लेने से बच रहे डाक्टरों, हेल्थ व फ्रंटलाइन वर्कर के खिलाफ कार्रवाई की भी तैयारी है.

यह भी पढ़े -   अनिल विज का बयान- हम नहीं चाहते थे लॉकडाउन लगाया जाए, लेकिन इसलिए लगाना पड़ा

Anil Vij
हरियाणा में 70 हजार से अधिक डाक्टर तथा हेल्थ व फ्रंटलाइन वर्कर ऐसे हैं जिन्होंने कोरोना से बचाव के लिए अभी तक टीका नहीं लगवाया है. पड़ोसी राज्यों चंडीगढ़ व पंजाब में नाइट कर्फ्यू लग चुका है. स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के अनुसार प्रदेश में कोरोना संक्रमित केसों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. सरकार के स्तर पर जितनी सख्ती की जा सकती है,वह की जा रही है. इसके बावजूद लोग सहयोग नहीं कर रहे हैं.

यह भी पढ़े -   इस बार गांवों में भी घुसा कोरोना, 22 गांवों में बनाएं माइक्रो कंटेनमेंट जोन

हरियाणा में संक्रमण को रोकने के लिए सभी जिला सिविल सर्जनों तथा जिला स्तर पर बनाई गई संयुक्त समितियों से रिपोर्ट मांगी गई है. विज ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग, पुलिस विभाग, स्थानीय निकाय विभाग को अलर्ट कर दिया है. सोमवार तक कोविड अस्पतालों को सूचीबद्ध करने का काम पूरा हो जाएगा. वहीं स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ वीणा सिंह ने शनिवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सभी जिलों के सिविल सर्जनों से बात करके उन सभी डाक्टरों व हेल्थ वर्करों की सूची मांगी है जिन्होंने अभी तक वैक्सीन नहीं लगवाई है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!