बडी सौगात: जल्द PM मोदी करेंगे इस हाईवे का उद्घाटन, चंडीगढ़ से नारनौल का सफर होगा आसान

रोहतक | हरियाणा के लोगों को एक और बड़ी सौगात मिली है. बता दे कि 6 मार्गीय अंबाला -नारनौल ट्रांस हरियाणा एक्सप्रेस वे अब बनकर तैयार हो गया है. नारनौल से अंबाला के इस्माइलाबाद तक बनाया गया यह 152d राष्ट्रीय राजमार्ग अंबाला -चंडीगढ़ को दिल्ली- जयपुर हाईवे पर कोटपुतली से जोड़ रहा है. नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया द्वारा जल्द ही इस एक्सप्रेस-वे को आम जनता के लिए खोल दिया जाएगा.

Fourlane Highway

जल्द प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर सकते हैं इस हाईवे का उद्घाटन 

जिस प्रकार एनएचएआई द्वारा तैयारियां की जा रही है उससे यह उम्मीद है कि जून के प्रथम सप्ताह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस एक्सप्रेस वे का उद्घाटन कर देंगे. वही हाईवे नंबर 152d के प्रोजेक्ट डायरेक्टर के एल शर्मा ने बताया कि इस एक्सप्रेस-वे को एडवांस ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम को ध्यान में रखकर ही तैयार किया गया है. इसका जुड़ाव इमरजेंसी कॉल सेंटर से भी किया गया है, जिसके लिए जगह-जगह पर इमरजेंसी कॉल के लिए टेलीफोन बूथ बनाए गए हैं.

हरियाणा के लोगों को मिलने वाला है बड़ा तोहफा 

इस पूरे एक्सप्रेस वे पर सीसीटीवी के जरिए निगरानी रखी जाएगी. हाईवे के चप्पे-चप्पे पर सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं. सीसीटीवी कैमरों का एक कंट्रोल रूम बनाया गया है. इस कंट्रोल रूम के जरिए ही हाईवे पर होने वाले सभी दुर्घटनाओं व घटनाओं की जानकारी रखी जाएगी . हाईवे के साथ ही ट्रामा सेंटर, चिल्ड्रन पार्क व व्हीकल रिपेयरिंग सेंटर भी बनाए जाएंगे. इस हाईवे की खास बात यह है कि जितना हम रोड का इस्तेमाल करेंगे उतना ही हम टैक्स देंगे. एक बार इस हाईवे पर चढ़ने के बाद नीचे उतरते ही टोल बैरियर आ जाएगा.

यह भी पढ़े -   दिल्ली में महंगा हुआ ऑटो और टैक्सी में सफर करना, इतने रूपये बढ़ाया गया किराया

अब इन राज्यों में हरियाणा से सफर होगा आसान 

वहीं एक्सप्रेस वे के डिवाइडरों पर सुंदर फूल पौधे भी लगाए गए हैं. एक्सप्रेस वे के दोनों छोरों पर कंक्रीट की दीवारें बनी हुई है. धातु की चादर से डिवाइडर और सड़कों के छोर ढक दिए गए हैं, ताकि कोई पशु या जानवर सड़क पर न चढ़ सके. सड़कों के बीचो-बीच बने डिवाइडर रोड पर जहां रंग बिरंगे फूल पौधे लगे हुए हैं, वही एक्सप्रेस वे के दोनों किनारों पर छायादार वृक्ष के पौधे भी लगाए जाएंगे. ट्रांस हरियाणा एक्सप्रेस वे से राजस्थान,गुजरात और महाराष्ट्र के शहरों की ओर आने जाने वाले यात्रियों व वाहन चालकों को काफी सुविधा होने वाली है. एक्सप्रेस वे के बन जाने से प्रदेश के अन्य मार्गों पर वाहनों का दबाव कम होगा.

यह भी पढ़े -   दिल्ली में महंगा हुआ ऑटो और टैक्सी में सफर करना, इतने रूपये बढ़ाया गया किराया

इस मार्ग पर दौड़ने वाले वाहनों की स्पीड 100 किलोमीटर प्रति घंटा रहेगी. 227 किलोमीटर लंबाई का यह राजमार्ग हरियाणा प्रदेश की तरक्की में मील का पत्थर साबित होगा. हाईवे के बनने की वजह से उत्तर से लेकर दक्षिण तक हरियाणा में आगमन काफी सरल हो जाएगा. दक्षिण हरियाणा में मध्य हरियाणा व उत्तर हरियाणा और चंडीगढ़ की ओर आने-जाने वाले वाहन चालकों व यात्रियों का समय भी बचेगा. इस एक्सप्रेस-वे के बनने से अंबाला से जयपुर पहुंचने में 3 से 4 घंटे तक की बचत होगी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!