17 साल से फरार मोस्ट वांटेड झारखंड में बेच रहा था मुरथल के पराठे, हरियाणा STF ने दबोचा

सोनीपत । हरियाणा पुलिस ने पिछले 17 साल से फरार चल रहे, ₹25000 के इनामी और वांटेड अपराधी को,  सोमवार को झारखंड से गिरफ्तार किया. बता दें कि यह अपराधी 2004 में पैरोल पर जेल से बाहर आया और उसके बाद फरार हो गया. यह बदमाश झारखंड में ढाबा चलाकर मुरथल के पराठे बेच रहा था.

haryana latest news today 1

पुलिस ने 17 साल से फरार चल रहे आरोपी को धर दबोचा 

हरियाणा पुलिस के प्रवक्ता द्वारा बताया गया कि गिरफ्तार आरोपी की पहचान धर्मेंद्र उर्फ राजेश निवासी चटिया औलिया जिला सोनीपत के रूप में हुई है. लूट के अलावा कई अन्य अपराधिक मामलों में यह मोस्ट वांटेड था. उसने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर साल 2000 में सोनीपत जिले में लूटपाट की घटना को अंजाम दिया था. इनामी बदमाश को स्पेशल टास्क फोर्स यूनिट ने काबू किया. इस मामले में अदालत ने आरोपी मानते हुए 20 साल की जेल की सजा सुनाई थी. लेकिन साल 2004 में पैरोल पर जेल से बाहर आने के बाद वह फरार हो गया.

यह भी पढ़े -   जींद में देसी पत्रकार धरमू को किसानों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, देखे वायरल वीडियो

आरोपी बार-बार बदल रहा था ठिकाने 

अपनी गिरफ्तारी से बचने के लिए वह लगातार ठिकाने बदलता रहा. एसटीएफ की टीम द्वारा पिछले साल दिसंबर में इस को पकड़ने के लिए प्लान बनाया गया था. साथ ही इसके बारे में गुप्त सूचना इकट्ठा करना शुरू की थी. जैसे ही पुलिस को इनामी बदमाश की लोकेशन के बारे में पता चला, उन्होंने एक टीम झारखंड भेज दी. जहां पता चला कि गिरफ्तार अपराधी पुलिस से बचने के लिए पहचान बदलकर रह रहा था. झारखंड के सरायकेला खरसावां जिले में एक ढाबा चलाकर मुरथल के पराठे में बेचने का काम कर रहा था.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!