सरकार की व्यवस्था को कोसता एक और सरकारी अस्पताल, माता के मंदिर में आए दान से कर रहा है दवाइयों का टोटा दूर

सोनीपत । शुक्रवार को स्टेट कायाकल्प की टीम ने सिविल अस्पताल, सोनीपत का दौरा किया. टीम ने कक्ष में जरूरी दवाओं व जरूरी व्यवस्थाओं को खंगाला. खामियां सामने आने पर अस्पताल प्रबंधन के साथ- साथ स्टाफ को भी फटकार लगाई गई. टीम सोमवार को फिर से अस्पताल का दौरा करने पहुंचेगी. अस्पताल प्रबंधन खामियों को दुरुस्त करने में जुट गया है.

hospital 2

बता दें कि सरकारी अस्पतालों को कायाकल्प के तहत अवार्ड दिया जाता है. इस योजना में टीम अस्पतालों का दौरा करती है और अस्पतालों में कमियों को दूर करके सुविधाएं बढ़ाने पर जोर देती है. इस दौरान इमरजेंसी वार्ड, मैटरनिटी वार्ड, लैब, कोविड ब्लॉक, आई वार्ड, महिला प्रसूति वार्ड, आइसोलेशन वार्ड, ब्लड बैंक सहित पूरे अस्पताल का दौरा किया जाता है. वहीं कायाकल्प टीम ने कोरोना की चौथी लहर को लेकर अस्पताल में मौजूद इंतजामों के बारे में भी जानकारी हासिल की.

अस्पताल में दवाओं का टोटा

सिविल अस्पताल में दवाओं की कमी का सिलसिला लंबे समय से जारी है. अस्पताल में कई- कई महीनों तक रेबिज के इंजेक्शन की मार रहती है. अस्पताल में हर रोज लगभग 1600 मरीजों की ओपीडी हैं. एमरजेंसी वार्ड में तैनात स्टाफ दवाओं का टोटा दूर करने के लिए अस्पताल परिसर में स्थित माता के मंदिर में आए दान का सहारा ले रहा है. जरुरी दवाओं की खरीद मंदिर के दानपात्र में आई नकदी से दूर की जा रही है.

यह भी पढ़े -   इलेक्ट्रिक व्हीकल खरीदने का सपना पूरा कर रही है सरकार, इस स्कीम के तहत दे रही छूट

इमरजेंसी वार्ड में मिली खामियां

इमरजेंसी वार्ड में व्यवस्थाओं को लेकर कायाकल्प टीम ने वहां मौजूद स्टाफ को जमकर फटकार लगाई. सफाई व्यवस्था व स्टाफ से बातचीत के दौरान सटीक जवाब न मिलने पर स्टाफ कर्मचारियों पर टीम भड़क उठी. टीम की फटकार के बाद अस्पताल में सफाई व्यवस्था के काम को लेकर एकाएक तेजी देखने को मिली.

यह भी पढ़े -   अवैध कॉलोनियों को वैध करेगा शहरी स्थानीय निकाय विभाग, बस इस शर्त को करना होगा पूरा

वहीं प्रसूति विभाग में अव्यवस्था को लेकर भी कायाकल्प टीम नाखुश नजर आई. प्रसूति विभाग में बेड कम होने के चलते एक बेड पर दो- दो महिलाएं लेटी नजर आई. प्रसूति विभाग का एसी भी खराब मिला. कायाकल्प टीम ने सभी खामियों को सोमवार तक दुरस्त करने के आदेश जारी किए हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!