डेढ़ महीने बाद हरियाणा में सक्रिय हुआ पश्चिमी विक्षोभ, अब बदलेगा मौसम

चंडीगढ़ । हरियाणा में इस सीजन का पहला पश्चिमी विक्षोभ करीब डेढ़ महीने बाद सक्रिय हुआ है. जिसकी वजह से हवा के चलने से गर्मी कम हुई है और हल्की बूंदा बांदी भी हुई है. जहां लोगों ने राहत महसूस की है लेकिन वहीं किसान के लिए ये दिक्कत की बात है. क्योंकि फसल का काम अभी बाकी है. मंडियों में गेहूं अभी खुले में ही पड़ा हुआ है. वीरवार की सुबह छाए बादलों के कारण गर्मी में कमी आई थी. लेकिन फिर दिनभर धूप रही. रात को मौसम बदलने के बात बारिश हो गई.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में पश्चिमी विक्षोभ हुआ सक्रिय, बदलेगा मौसम का मिजाज, इस दिन बारिश की संभावना

BARISH HARYANA

हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के मौसम विभाग द्वारा वीरवार को बारिश और तेज़ हवाएं चलने का अनुमान लगाया गया था. एचयू के मौसम विभाग के अध्यक्ष डॉ मदन खिचड़ द्वारा बताया गया कि हरियाणा के पश्चिमी विक्षोभ के आंशिक प्रभाव से राजस्थान के ऊपर एक साइक्लोनिक सर्कुलेशन बनने से प्रदेश में मौसम में बदलाव देखने को मिल सकता है. इसके कारण दिन के तापमान में कमी और रात के तापमान में हल्की बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है.

गुरुवार रात को तेज हवाओं और बारिश के कारण बिजली चली गई. बजली निगम कर्मी देर रात बिजली ठीक करने में लगे रहे. मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार आने वाले दिनों में मौसम खुश्क हो सकता है. ये भी कहा जा रहा है कि इस पश्चिमी विक्षोभ का असर आने वाले एक दो दिन तक ही रहेगा. इसके बाद फिर तापमान बढ़ जाएगा. सुबह से ही  तेज हवाओं के चलने के कारण आगजनी का खतरा बढ़ गया था. ग्रामीण इलाकों में लंबे समय तक बिजली काट दी गई थी. साथ ही दमकल विभाग को भी एलर्ट कर दिया गया.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!