खेतों में खड़े पीले सोने पर रात भर कड़कती रही बिजली, किसानों की नींद हराम

कुरुक्षेत्र । किसानों के खेतों में खड़े पीले सोने पर मंगलवार की रात भर बिजली कड़कती रही. बिजली की कड़क के साथ तेज हवा और कहीं-कहीं हुईं हल्की बुंदाबांदी ने किसानों की नींद हराम करने का काम किया. आधी रात के बाद मौसम बिगड़ने पर शाहाबाद में एक एमएम और थानेसर खंड में 0.5 एमएम बारिश दर्ज की गई.

GEHU ANAJ

खराब मौसम किसानों के लिए दोहरी मुसीबत लेकर आया. एक ओर तों गेहूं की फसल पककर तैयार खड़ी हैं तथा दूसरी ओर अनाज मंडी में पड़ी गेहूं के भी बारिश में भीगकर खराब होने की चिंता सताती रही. हालांकि बुधवार की सुबह आसमान साफ रहा और अच्छी धुप भी खिली . बूंदाबांदी के चलते न्यूनतम तापमान 3 डिग्री तक कम होकर 18 डिग्री सेल्सियस रहा. मौसम विशेषज्ञों ने अधिकतम तापमान में भी दो डिग्री तक कमी रहने का अनुमान जताया है.

यह भी पढ़े -   Weather Update: अगले तीन घंटे में हरियाणा के इन जिलो में बारिश की सम्भावना, देखे जिलो की लिस्ट

6 और 7 अप्रैल को था बारिश का पूर्वानुमान

मौसम विशेषज्ञों ने कई दिन पहले ही पांच और छह अप्रैल को आसमान में बादल छाए रहने के साथ-साथ, गरज-चमक के साथ हल्की बूंदाबांदी के आसार जताए थे. ऐसे में मंगलवार को दिन भर आसमान में बादल छाए रहे. मंगलवार की आधी रात के बाद तेज हवाओं और गरच के साथ कई जगहों पर बूंदाबांदी शुरू हो गई. रात में करीब दो घंटे तक आसमान में बिजली कड़कती रही.

यह भी पढ़े -   अगले तीन घंटो में धूल भरी आंधी के साथ इन जिलों में होगी बारिश, ओलावृष्टि का भी अलर्ट

वहीं कृषि विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ संयोजक डॉ प्रदुम्न भटनागर ने बताया कि हल्की बूंदाबांदी से फसलों को कोई नुक्सान नहीं है. इन दिनों में तेज बारिश व हवा ही गेहूं की फसल को नुक़सान पहुंचा सकते हैं. अब अगले कई दिनों तक मौसम के साफ रहने की उम्मीद जताई गई है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!