अंबाला में पत्नी की इच्छा पूरी करने के लिए गुरुद्वारे के लिए सोने का खंडा बनवाया, थमा दिया नकली

Casino

अंबाला | अंबाला में अजीबो गरीब ठगी का मामला सामने आया है. 80 साल के बुजुर्ग ने अपनी पत्नी की इच्छा को पूरा करने के लिए निशान साहिब पर सोने का खंडा लगाने के लिए आर्डर तो दे दिया, लेकिन उसके साथ धोखा हो गया. जिसको आर्डर दिया था उसने सोने की बजाय किसी दूसरी धातु का खंडा थमा दिया. मामला खुला तो खंड बनाने वालों को बुलाया गया.

Fraud

उसने दोबारा खंडा बनाने का आश्वासन दिया, लेकिन फिर से ठगी कर डाली.पुलिस ने बलवंत सिंह आनंद निवासी बीसी बाजार की शिकायत पर जसबीर सिंह सनहोत्र पर मामला दर्ज करके कार्रवाई शुरू कर दी है. उल्लेखनीय है कि मामला साल 2012 से चला आ रहा है.

शिकायत में बलवंत सिंह आनंद ने बताया है कि उनकी पत्नी नरेंद्र कौर की मौत हो चुकी है. उन्होंने बीसी बाजार स्थित गुरुद्वारा में सोने का खंडा निशान साहिब पर शोभायमान करने की इच्छा जाहिर की थी. उनके निधन से पहले उनकी इच्छा को पूरा करने के लिए उन्होंने जसवीर सिंह 36 धामा वाला बाजार (नजदीक मस्जिद) देहरादून, 93/1 विधायक निवास के सामने रेसकोर्स के बारे में पता चला, जो यह काम करता है. इस पर इन्होंने जसवीर सिंह को साल 2012 में निशान साहिब पर खंडा साहिब चढ़ाने का आर्डर दिया.

यह भी पढ़े -   पैदा होते ही नवजात को छत पर रखने के मामले में खुलासा, अविवाहित मां से हुआ था दुष्कर्म

सन 2013 में वह खंडा बना कर खुद अंबाला छावनी आकर दे दिया था. जसवीर सिंह ने अपनी मौजूदगी और देखरेख में खंडे को निशान साहिब पर लगाया और असली सोना होने की गारंटी दी थी. यह पोल डेढ़ साल के बाद टूट कर गिर गया, जबकि खंडे की जांच की गई तो पता चला कि यह सोने का नहीं है. इस पर जसबीर से बात की तो उन्होंने नया खंडा बना कर देने का वायदा किया. बलवंत सिंह आनंद विवाद सुलझाने के लिए 2017 में लोगों को लेकर देहरादून गया, जहां उसने 95 हजार लौटा दिए. जबकि बकाया 4,70,000 रुपए की राशि दिसंबर 2018 तक देने का वायदा किया. यह रुपया अभी तक नहीं दिया गया है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!