सिरसा में पशुओं में फैलीं रहस्यमय बीमारी,15 दिनों में 20 दुधारू पशुओं की मौत, 400 से अधिक बीमार

Casino

सिरसा । सिरसा जिले के गांव रुपावास में अज्ञात बीमारी पशुओं पर कहर बनकर टूट रही है. बीमारी की चपेट में आने से 20 से अधिक पशुओं की मौत हो चुकी है जबकि 400 से ज्यादा दुधारू पशु इसकी चपेट में आने से बीमार चल रहे किसान. अज्ञात बीमारी की वजह से हो रही पशुओं की मौत से ग्रामीणों में हाहाकार मची हुई है. हालांकि ग्रामीण निजी पशु चिकित्सक को बुलाकर इलाज करवा रहे हैं. पशुपालन विभाग को मामले की भनक मंगलवार को लगीं है.

Buffalo

ग्रामीणों ने बताया कि करीब 15 दिनों से संदिग्ध परिस्थितियों में पशुओं की मौत हो रही है. गांव में 400 के करीब पशु बीमार पड़े हैं. ग्रामीणों ने अंदेशा जताया है कि मुंहखुर की बीमारी से पशु मौत के मुंह में जा रहे हैं. ग्रामीणों ने बताया कि अन्य पशु भी इस बीमारी की चपेट में आ रहें हैं. उन्होंने बताया कि अचानक से पशुओं का दूध सुखना शुरू हो गया हैं और बीमारी लगने के तीन दिन के भीतर ही पशु दम तोड़ रहे हैं.

निजी चिकित्सक से करवा रहे हैं इलाज

ग्रामीणों ने बताया कि करीब 15 दिनों से गांव में बीमारी फैलीं हुईं है. लेकिन अभी तक एक भी सरकारी चिकित्सक उनके गांव में नहीं आया. ग्रामीण अपने स्तर पर निजी पशु चिकित्सक को बुलाकर इलाज करवा रहे हैं. ग्रामीणों ने कहा कि निजी पशु चिकित्सक 1500 से 2000 रुपए फीस लेकर टीकाकरण कर रहे हैं, फिर भी पशुओं के बचने की कोई गारंटी नहीं है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा के पहलवान ने शरीर पर खाएं इतने हथोड़े कि बन गया विश्व रिकॉर्ड, मिला स्टील मैन का खिताब

विभाग के टीकाकरण अभियान में भाग नहीं लेते ग्रामीण

हालांकि मुंहखुर बीमारी की रोकथाम हेतु पशुपालन विभाग की ओर से हर साल समय-समय पर व्यापक स्तर पर टीकाकरण अभियान चलाया जाता है. विभाग की टीमें सभी गांवों में घर-घर जाकर पशुओं का टीकाकरण भी करतीं हैं. लेकिन अधिकतर गांवों में ग्रामीणों में ये भ्रांति रहतीं हैं कि टीका लगने से पशु दूध से सुख जाएगा जबकि छोटे पशुओं को बुखार हो जाएगा. लेकिन अब ग्रामीणों का कहना है कि पशुपालन विभाग द्वारा जल्द ही गांव में टीकाकरण अभियान चलाया जाएं ताकि पशुओं को इस बीमारी से बचाया जा सके.

यह भी पढ़े -   रेवाड़ी में टोल कर्मचारियों की हड़ताल, 2 महीनों से नहीं मिला वेतन

अभी आई है सूचना, टीम भेजकर जांच करवाएंगे: एसडीओ

पशुपालन विभाग के एसडीओ डॉ वीएस बंसल ने बताया कि गांव में अज्ञात बीमारी के प्रकोप से पशुओं की मौत हुई है. सूचना मिली है, जल्द ही विभाग की टीम गांव में जांच के लिए भेजी जाएगी. बीमारी का पता लगते ही तुरंत प्रभाव से इलाज शुरू करवाया जाएगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!