बड़ी सौगात: प्रदेश में अब किसान खुद तय करेंगे मंडी में गेहूं बेचने का दिन

भिवानी । प्रदेश में गेहूं कटाई का काम जोरों पर है. किसान अपने परिवार के साथ दिन- रात कटाई व कढ़ाई के काम में लगे हुए हैं. इन सबके बीच किसानों के फोन पर अनाज मंडी में गेहूं लाने के संदेश भी आ रहे हैं. इससे किसान बड़ा चिंतित था. इसी बीच सरकार ने फसल खरीद की प्रक्रिया में एक बार फिर से बदलाव किया है. इसके तहत ई -खरीद पोर्टल पर जाकर किसान अब अपनी इच्छानुसार अपनी नजदीकी मंडी में गेहूं ले जाने का दिन तय कर सकेंगे. सरकार की ओर से इस संबंध में आदेश जारी कर दिए गए हैं.

यह भी पढ़े -   लॉकडाउन को लेकर फेक ट्वीट सोशल मीडिया पर वायरल, अनिल विज ने दी शिकायत

fotojet 16

कुछ दिन पहले डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा था कि मंडियों में खरीद किसानों के अनुसार होगी ,न कि सरकार के अनुसार. मार्केट कमेटी के अधिकारी संजय कुमार ने बताया कि ई -पोर्टल खरीद में बदलाव किया गया है. अब किसान के हाथ में है कि वह अपना दिन खुद निश्चित करें कि कब उसको गेहूं की फसल को अनाज मंडी में लेकर जाना है. ई -पोर्टल पर जाकर किसान अपनी सुविधा अनुसार दिन निश्चित कर सकता है.

यह भी पढ़े -   गेहूं का भुगतान तीन दिन में जारी करने का था वादा, दस दिन हो गए अभी तक नहीं आई रकम

जन नायक सेवादल के राष्ट्रीय महासचिव वजीर मान ने उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला का आभार व्यक्त किया और कहा कि डिप्टी सीएम हमेशा किसान हितैषी रहे हैं. उन्होंने कहा कि सरकार के इस फैसले से अब सब कुछ किसान के हाथ में हो गया है,वह अपनी मर्जी के अनुसार अपनी गेहूं की फसल को मंडी में ले जा सकते हैं. क्षेत्र के सुरेन्द्र नेहरा, धर्मपाल, बलवान कारी,धीर सिंह नेहरा, विजय कुमार आदि किसानों ने ई-पोर्टल पर किसानों को अपने हिसाब से गेहूं मंडी में लाने की मिली छूट पर सरकार का आभार व्यक्त किया है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!