पंजाब के बाद अब हरियाणा कांग्रेस में घमासान, कुमारी सैलजा को अध्यक्ष पद से हटाने की मांग

Casino

चंडीगढ़ ।  पंजाब के बाद अब हरियाणा कांग्रेस में घमासान मच गया है. हुड्डा समर्थकों के अपने खिलाफ़ अभियान के बाद हरियाणा कांग्रेस की अध्यक्ष कुमारी सैलजा भी आक्रामक हो गई है. शैलजा ने भी पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुडा के खिलाफ़ मोर्चा खोल दिया है. उन्होंने हुडा को प्रदेश संगठन के गठन में बाधा बताया है. सैलजा आज सुबह कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गाँधी से मिलीं.

kumari selja

दरअसल बताया जाता है कि सैलजा ने राहुल गांधी को हरियाणा कांग्रेस के पूरे घटनाक्रम के बारे में जानकारी थी. सूत्रों के अनुसार उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुडा की गतिविधियों के बारे में राहुल गांधी को विस्तृत जानकारी दी. सैलजा की नई दिल्ली में 12 तुगलक लेन स्थित राहुल गाँधी के आवास पर सुबह 8:00 बजे मुलाकात होने की खबर है.

इसके साथ ही हरियाणा कांग्रेस में नेताओं के बीच घमासान अभी थमता हुआ नहीं दिख रहा है. अब हुड्डा समर्थक विधायक सोमवार को कांग्रेस की राष्ट्रीय संगठन महासचिव कैसी वेणुगोपाल से मिलेंगे. बताया के सी वेणुगोपाल से समय लिया है, बता दें हुड्डा समर्थक नेता कुमारी सैलजा को हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष पद से हटाने की मांग कर रहे हैं और उसके लिए सक्रिय है.

यह भी पढ़े -   टोक्यो ओलम्पिक में मैडल जीता तो 5 दिन तक चंडीगढ़ में फ्री की सैर, जानें पूरी स्टोरी

बंसल बोले नहीं हटेंगी सैलजा

दूसरी ओर हरियाणा कांग्रेस के प्रभारी विवेक बंसल ने कहा है कि हरियाणा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा अपने पद पर बनी रहेंगी. सैलजा की तरफ से प्रस्तावित प्रदेश कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्यों की सूची पर भी हाईकमान अपनी मुहर लगा सकता है. शनिवार को हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा 24 अकबर रोड स्थित पार्टी मुख्यालय पहुंची थीं. शैलजा ने पार्टी के संगठन महासचिव कैसी वेणुगोपाल से मुलाकात की. दोनों की करीब 1 घंटे तक चर्चा हुई.

यह भी पढ़े -   बेरोजगारों के लिए बड़ी खुशखबरी, अब हरियाणा के युवाओं को घर के पास ही मिलेगा रोजगार

सैलजा ने वेणुगोपाल से मिलने के बाद सिर्फ इतना ही संकेत दिया, कि हाईकमान प्रदेश कार्य समिति का गठन शीघ्र चाहता है. इसलिए जल्दी प्रदेश इकाई और जिलाध्यक्षों की सूची जारी की जाएगी. सूत्रों के अनुसार वेणुगोपाल की तरफ से सैलजा को हरी झंडी मिल गई है.

बता दें कि बृहस्पतिवार को पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुडा समर्थक 12 विधायक विवेक बंसल से भेंट की थी. अब उन्होंने बंसल से क्या कहा? यह तो अंदर की बात थी, लेकिन सूत्रों के अनुसार बताया कि उन्हें कुमारी सैलजा को हटाने और प्रदेश कांग्रेस का नेतृत्व वाड्रा के हाथ में देने की मांग की थी. यद्यपि शनिवार को बंसल ने इससे इंकार कर दिया.

बंसल ने कहा कि पार्टी के 19 विधायक उनसे मिले थे. लेकिन उन्होंने प्रदेश अध्यक्ष को हटाने जैसी कोई बात नहीं की. विधायक सिर्फ यह चाहते थे कि हरियाणा में निकाय और पंचायत चुनाव होने हैं, इसलिए इनकी तैयारी में पार्टी संगठन को अभी से जुट जाना चाहिए. इस बार पार्टी को ये चुनाव सिंबल पर लड़ने चाहिए. बंसल ने यह भी कहा कि प्रदेश कार्यसमिति के गठन में जो विलय हो रहा है उसका एक कारण यह भी है की सबको साथ लेकर चलना है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा की IPS अधिकारी भारती अरोड़ा ने बाकी जीवन कृष्ण भक्ति में बिताने का लिया फैसला, सरकार से मांगी स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति

कैप्टन अजय सिंह यादव ने भी की बंसल से मुलाकात

अहीरवाल के नेता और पूर्व मंत्री कैप्टन अजय यादव ने शनिवार प्रदेश प्रभारी विवेक बंसल से पार्टी मुख्यालय में मुलाकात की. कैप्टन ने ख़ास बातचीत में बताया, कि उनके लिए सोनिया गाँधी, राहुल गाँधी का आदेश सर्वोपरि है. हम किसी विवाद में नहीं पड़ना चाहते. कांग्रेस जितना विवादों से दूर रहेंगी उतना ही सशक्त रहेंगी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!