हरियाणा में ठेकेदारों के लिए नया आदेश, सरकारी कार्यों का कॉन्ट्रैक्ट लेने पर करना होगा ये काम

चंडीगढ़ | हरियाणा सहित देशभर के कई अन्य राज्यों में पड़ रही भीषण गर्मी ने लोगों का ध्यान पर्यावरण की ओर आकर्षित किया है. लोगों को पेड़- पौधों की उपयोगिता समझ आने लगी है. इसी कड़ी में बिगड़ते पर्यावरण को संतुलित करने के लिए हरियाणा के परिवहन मंत्री असीम गोयल (Aseem Goyal) ने एक बड़ा कदम उठाया है. उन्होंने बताया कि सूबे को हरा- भरा बनाने के लिए अपने विभागों के मुख्य अधिकारियों को अहम निर्देश दिए गए हैं.

Aseem Goel

परिवहन मंत्री ने बताया कि उनके अधीन आने वाले परिवहन विभाग और महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के उच्च अधिकारियों को ये आदेश दिए गए हैं कि उनके विभाग के कार्य का कोई भी टेंडर किसी भी ठेकेदार को दिया जाता है तो उस ठेकेदार को हरियाणा में पौधारोपण कार्य करना होगा.

टेंडर की कीमत पर निर्भर करेगी पेड़ों की संख्या

असीम गोयल ने बताया कि पेड़ों की संख्या टेंडर की कीमत पर निर्भर करेगी. अगर टेंडर 1 से 20 लाख तक का होगा, तो 20 पेड़ लगाने होंगे और अगर टेंडर 50 लाख तक का होगा, तो 50 पेड़ और अगर टेंडर 1 करोड़ का होगा, तो 100 पेड़ लगाकर देने होंगे. उन्होंने बताया कि टेंडर की कीमत के साथ- साथ पेड़ो की संख्या का आंकड़ा भी बढ़ता जाएगा. इस संबंध में विभागीय अधिकारियों को आदेश जारी कर दिया गया है.

बता दें कि हरियाणा सहित कई अन्य राज्यों में तन को झुलसा देने वाली भीषण गर्मी पड़ रही है, जिससे न केवल इंसान बल्कि पशु- पक्षी भी प्रभावित हो रहें हैं. कई राज्यों में लू से मौतें हो चुकी है. ऐसे में परिवहन मंत्री द्वारा उठाया गया ये अनूठा कदम तारीफे काबिल है. इस तरह का निर्णय लेने वाले वो देश के पहले मंत्री बन गए हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!