कोरोनाकाल में बिजली उपभोक्ताओं के लिए बड़ी राहत, अब नहीं भरना होगा दोगुना बिजली बिल.

चंडीगढ़ । कोविड-19 महामारी के बढ़ते संक्रमण व उपभोक्ताओं की परेशानी को ध्यान में रखते हुए, सरकार के निर्देशानुसार बिजली वितरण निगमों द्वारा अपने सभी सक्रिय बिजली उपभोक्ताओं की, पिछले वित्त वर्ष की औसत  बिलिंग के आधार पर उनके द्वारा जमा की गई,  अग्रिम खपत जमा को 1 साल के लिए स्थगित किया जा रहा है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में लॉकडाउन को लेकर स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज का बड़ा बयान, जाने

bijli bill

हरियाणा बिजली निगम ने लिया बड़ा फैसला 

बता दें कि इस संबंध में हरियाणा विद्युत विनियामक आयोग को आवेदन भी किया जाएगा. बिजली निगम के प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि एचईआरसी की हिदायतो के अनुसार सभी श्रेणियों के उपभोक्ताओं की एसीडी राशि को पिछले वर्ष की खपत के आधार पर दो औसत बिलिंग चक्कर के बराबर रखना अनिवार्य है.

यह भी पढ़े -   शिक्षा विभाग का आदेश: कोरोना के खिलाफ जंग में अब उतरेंगे गुरुजी, आज से ट्रेनिंग शुरू

विभाग द्वारा कोरोना महामारी के चलते,  राहत देते हुए एसीडी को 1 वर्ष के लिए टाला गया है, ताकि उपभोक्ताओं को ऐसे विकट समय में आर्थिक तौर पर परेशानियों का सामना ना करना पड़े. हरियाणा के बिजली वितरण निगम द्वारा अपने उपभोक्ताओं को सुचारू रूप से निर्बाध बिजली आपूर्ति उपलब्ध करवाने व उनकी समस्याओं के समाधान के प्रति वचनबद्ध है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!