मकर संक्रांति पर्व पर गेस्ट टीचर्स पर तोहफों की बरसात, सरकार ने की बड़ी घोषणाएं

चंडीगढ़ । लंबे समय से अपनी मांगों को लेकर धरने- प्रदर्शन कर रहे गेस्ट टीचर्स के लिए मकर संक्रांति पर्व खुशियां लेकर आया है. बुधवार को गेस्ट टीचर्स एसोसिएशन अपनी मांगों को लेकर शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुर्जर और मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मिला था. बैठक के बाद सीएम मनोहर लाल ने कहा कि मुलाकात काफी सौंदर्यपूर्ण माहौल में हुई है और गेस्ट टीचर्स एसोसिएशन ने आश्वासन दिया है कि वे अपना सांकेतिक धरना स्थगित कर देंगे.

यह भी पढ़े -   पंजाब में भगवंत मान चुने गए AAP के CM उम्मीदवार, अरविन्द केजरीवाल ने किया ऐलान

haryana cm press conference

गेस्ट टीचर्स एसोसिएशन के साथ बैठक के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने बताया कि गेस्ट टीचर्स के लिए सेवा नियमों को एक सप्ताह के भीतर लागू कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि किसी गेस्ट टीचर की मौत होने पर उसके परिवार को तीन लाख रुपए की आर्थिक सहायता राशि देने की मांग को मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने स्वीकृति प्रदान कर दी है. इसके अलावा गेस्ट टीचर्स को उनकी शिक्षा व अन्य कार्यों के लिए साल में भत्ते के तौर पर एक बार 10 हजार रुपए की राशि दी जाएगी.

शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुर्जर ने आगे बताया कि गेस्ट टीचर्स को आयुष्मान भारत योजना के तहत पांच लाख रुपए का बीमा और सेवा नियम बनाने की मांग को भी मुख्यमंत्री ने स्वीकार कर लिया है. इसके अलावा उन्हें 20 आकस्मिक अवकाश भी दिए जाएंगे.

यह भी पढ़े -   हरियाणा और राजस्थान में हुई इस शादी की आखिर क्यों हो रही चर्चा, जानें वजह ?

वहीं कम्प्यूटर टीचर्स मामले को लेकर शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने कहा कि कम्प्यूटर टीचर्स की मांगों जैसे कि मातृत्व लाभ व आकस्मिक अवकाश के साथ-साथ अन्य मांगों को भी मान लिया गया है. इसके साथ ही ट्रांसफर और एडजस्टमेंट के नियमों में बदलाव के लिए एसोसिएशन से राय ली जाएगी. इसके अलावा ड्राइंग और पीटीआई टीचर्स को कौशल विकास निगम पोर्टल पर आवेदन करने के समय पर अनुभव को आधार मानकर आय में छूट दी जाएगी. शिक्षा मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार सभी वर्गों की भलाई के लिए लगातार प्रयासरत हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!