हरियाणा सरकार ने मुआवजा राशि में बढ़ोतरी के साथ लिए 2 बड़े फैसले, किसानों में खुशी की लहर

चंडीगढ़ | हरियाणा सरकार ने किसानों की सुविधा का ख्याल रखते हुए कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं. सीएम मनोहर लाल ने बताया कि जल्द ही फसल क्षतिपूर्ति भुगतान के लिए नया पोर्टल शुरू किया जाएगा. उन्होंने कहा कि किसान भी अब इस पोर्टल पर अपनी फसल में हुए नुकसान का ब्यौरा दर्ज कर सकेंगे. इसके लिए हरियाणा सरकार के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग ने तैयारियां पूरी कर ली है.

cm khattar

सीएम मनोहर लाल ने कहा कि कई मामलों में किसानों की फसल में नुकसान ज्यादा हुआ होता है और विभाग के आंकलन का मिलान नहीं हो पाता. ऐसी स्थिति में किसान उस मुआवजा राशि से वंचित रह जाता है जिसका वह हकदार है. इसी के चलते सरकार ने किसानों को यह सुविधा देने का निर्णय लिया है. इसके साथ ही सीएम ने कहा कि 25 मई तक हरियाणा की मंडियों में गेहूं की सरकारी खरीद की जाएगी. जिन किसानों के पास गेहूं का स्टॉक बचा हुआ है वो मंडी में आकर अपनी फसल बेच सकते हैं.

मुआवजा राशि में वृद्धि

सीएम मनोहर लाल ने कहा कि हमारी सरकार ने प्राकृतिक आपदा से खराब फसलों के लिए मुआवजा राशि को 12 हजार रुपए से बढ़ाकर 15 हजार रुपए प्रति एकड़ कर दिया है. यह स्लैब 75 फीसदी से अधिक खराब हुई फसल पर लागू होगा. दूसरे स्लैब में दस हजार रुपये की मुआवजा राशि को बढ़ाकर 12 हजार पांच सौ रुपये प्रति एकड़ कर दिया गया है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा की बेटियों का जलवा है कायम, अब इस बेटी ने ऑल इंडिया लॉ एंट्रेंस टेस्ट में हासिल की 5वीं रैंक

सीएम मनोहर लाल ने बताया कि हमारी सरकार ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana) में 2 एकड़ से कम खेती करने वाले किसानों का प्रीमियम भी खुद ही भरने का निर्णय लिया है. जबकि 2 से 5 एकड़ तक जमीन वाले किसानों के हिस्से का आधा प्रीमियम अदा किया जाएगा. उन्होंने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार किसानों को आर्थिक रूप से समृद्ध बनाने के लिए अनेक योजनाएं चला रही हैं और किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए अनेक कदम उठाए जा रहे हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!