अब महज एक क्लिक से बनेगा पिछड़ा वर्ग प्रमाणपत्र, हरियाणा सरकार ने लांच की आनलाइन सेवा

चंडीगढ़ | हरियाणा की मनोहर सरकार ने पिछड़ा वर्ग समाज की सुविधाओं में इजाफा करते हुए एक और बड़ा कदम उठाया है. पिछले दिनों ही नए सिरे से पिछड़ा वर्ग आयोग का गठन करने के बाद सरकार ने पिछड़ा वर्ग प्रमाणपत्र की आनलाइन सेवा को लांच कर दिया है. इसके माध्यम से अब योग्य व्यक्ति महज एक क्लिक से अपना पिछड़ा वर्ग प्रमाणपत्र बनवा सकेंगे.

birth certificate
प्रतीकात्मक फोटो

आनलाइन सेवा की लॉन्चिंग के अवसर पर सीएम मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश में अभी तक 22 लाख पिछड़ा वर्ग के परिवारों ने परिवार पहचान- पत्र (पीपीपी) में पंजीकरण किया है. इनमें से 19 लाख परिवारों की वार्षिक आय पीपीपी के माध्यम से वेरिफाई हो चुकी है और इनका डाटा अपडेट कर दिया गया है. ये परिवार अब सरल पोर्टल पर अपना पिछड़ा वर्ग प्रमाणपत्र बनवा सकते हैं.

यह भी पढ़े -   हरियाणा: सड़कों की मरम्मत के लिए हर हल्के को मिलेंगे 25 करोड़ रुपए, एस्टीमेट बनाकर भेजें विधायक

सीएम मनोहर लाल ने कहा कि आनलाइन सुविधा उपलब्ध होने से लोगों को सरकारी कार्यालयों तक भागदौड़ नहीं करनी पड़ेगी. उन्होंने कहा कि बचे हुए परिवारों की आय वेरिफिकेशन का काम जारी है. जिन परिवारों की आय वेरिफिकेशन का काम बाकी है और उन्हें तुरंत प्रभाव से पिछड़ा वर्ग प्रमाणपत्र की जरूरत है तो वह जैसे ही सरल पोर्टल पर आवेदन करेंगे, तत्काल प्राथमिकता देते हुए उनकी आय वेरिफाई करवाई जाएगी और जल्द से जल्द उनका पिछड़ा वर्ग प्रमाणपत्र बनाया जाएगा.

सीएम मनोहर लाल ने बताया कि सरल पोर्टल के माध्यम से उपलब्ध होने वाले पिछड़ा वर्ग प्रमाणपत्र पर एडीसी के हस्ताक्षर होंगे और उसके बाद ही उस सर्टिफिकेट को वैध माना जाएगा. उन्होंने कहा कि एक क्लिक पर यह सुविधा मिलने से निश्चित तौर पर इस वर्ग के लोगों को बड़ा फायदा पहुंचेगा. सीएम ने कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा पिछड़ा वर्ग के कल्याण के लिए अनेक लाभकारी योजनाएं चलाई जा रही है और परिवार पहचान पत्र के माध्यम से इन योजनाओं का लाभ हर जरुरतमंद परिवार तक पहुंचाया जा रहा है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!