हरियाणा में खरीफ फसलों की खरीद इस दिन से होगी शुरू, इन जिलों की मंडियों में होगी खरीद

चंडीगढ़ | हरियाणा में खरीफ फसलों की खरीद 1 अक्टूबर से शुरू होगी. इस दौरान मूंग, मूंगफली, अरहर, उड़द और तिल की खरीद की जाएगी. फसलों की खरीद के लिए राज्य में 100 से अधिक मंडियों की व्यवस्था की गई है. इस संबंध में मुख्य सचिव संजीव कौशल ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि विपणन सीजन 2022-23 के दौरान खरीफ फसलों की खरीद के लिए पर्याप्त व्यवस्था की जाए ताकि किसानों को अपनी फसल बेचने में कोई परेशानी न हो.

Moong Dal

मंडियों में 15 नवंबर तक चलेगी खरीद प्रक्रिया

मुख्य सचिव ने सोमवार को चंडीगढ़ में खरीफ फसलों की खरीद की तैयारियों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की. उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि मंडियों में फसलों की समय पर खरीद, उसके भंडारण और उसकी स्टोरेज, मंडियों में गनी बैग्स की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए ताकि खरीद प्रक्रिया के दौरान कोई परेशानी न हो.

साथ ही, बैठक में बताया गया कि विपणन सीजन 2022-23 के दौरान मूंग की खरीद 1 अक्टूबर से शुरू होकर 15 नवंबर तक चलेगी. वहीं, मूंगफली की खरीद 1 नवंबर से 31 दिसंबर तक की जाएगी. इसमें अरहर, उड़द और तिल की खरीद 1 दिसंबर से शुरू होकर 31 दिसंबर तक चलेगी.

MSP पर खरीदी जाएगी फसल

बता दें कि खरीफ फसलों की खरीद भारत सरकार द्वारा घोषित न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर की जाएगी. बैठक में बताया गया कि हरियाणा राज्य भंडारण निगम और हैफेड जैसी राज्य खरीद एजेंसियों के अलावा खरीफ फसलों की खरीद नाफेड द्वारा की जाएगी. बैठक में बताया गया कि खरीफ फसलों की निर्बाध खरीद सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्त संख्या में मंडियों की व्यवस्था की गयी है.

यह भी पढ़े -   बारिश से खराब हुई फसलों का मिलेगा मुआवजा, 72 घंटे के अंदर इस पोर्टल पर आवेदन करें किसान

मूंग की खरीद के लिए 16 जिलों की 38 मंडियों में, 18 जिलों की 22 मंडियों में अरहर की, 7 जिलों की 10 मंडियों में उड़द की खरीद के लिए, 3 जिलों की 7 मंडियों में मूंगफली की खरीद के लिए और 21 जिले में तिल की खरीद के लिए 27 मंडियां हैं. बैठक में बताया गया कि इस वर्ष 41,850 मीट्रिक टन मूंग के उत्पादन की संभावना है. इसी प्रकार अरहर का 1044 मीट्रिक टन, उड़द का 364 मीट्रिक टन, तिल का 425 मीट्रिक टन और मूंगफली का 10,011 मीट्रिक टन उत्पादन होने की संभावना है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!