पक्के नही हो सकेंगे आरोही स्कूलों के शिक्षक और गैर शैक्षणिक स्टाफ, सरकार ने बदलें नियम

चंडीगढ़ । प्रदेश के पिछड़े खंडों में इंग्लिश मीडियम वाले 36 आरोही स्कूलों में शिक्षा दें रहें अध्यापक और गैर शैक्षणिक स्टाफ अब पक्के नही हो सकेंगे. सरकार ने हरियाणा आरोही एजुकेशनल बैकवर्ड ब्लॉक मॉडल स्कूल सोसायटी सर्विस बॉयलाज-2019 के तहत सेवा नियमों में बदलाव का खाका तैयार किया है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा: स्ट्रीट लाइट टेंडर में 900 करोड़ का घोटाला, बैकफुट पर शहरी निकाय अधिकारी

Teacher
अनुबंध जारी रखने के लिए किए मानक तय

पहले पांच साल की नौकरी के बाद कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने की योजना थी, लेकिन नए ड्राफ्ट के मुताबिक कांट्रेक्ट बेस पर ही भर्तियां की जाएंगी. न स्थाई नियुक्ति होगी और ना ही स्थाई कर्मचारियों के समान वेतनमान मिलेगा. इन कर्मचारियों को पक्का भी नहीं किया जाएगा.
अनुबंध जारी रखने के लिए मानक तय किए गए हैं. मानकों के मुताबिक हर साल 100 अंकों में से 40 से कम अंक लेने वाले कर्मचारियों का अनुबंध तुरंत खत्म कर दिया जाएगा. 40 से 49 अंक लेने वाले कर्मचारियों पर भी नौकरी गंवाने की तलवार लटकती रहेगी. इसके लिए उन्हें बाकायदा नोटिस थमा दिए जाएंगे. यानि कि अनुबंध जारी रखने के लिए 50 अंक लेने अनिवार्य हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!