हरियाणा में गर्मियों की छुट्टियों के दौरान भी इन छात्र-छात्राओं की चलेगी ऑनलाइन कक्षाएं

चंडीगढ़ | हरियाणा सरकार ने फैसला किया है कि गर्मियों की छुट्टियों के दौरान कक्षा 10वीं से 12वीं तक के छात्र ऑनलाइन कक्षाएं लेंगे. हरियाणा के शिक्षा मंत्री कवर पाल गुर्जर ने यमुनानगर में मीडिया से बात करते हुए कहा कि हाल ही में बच्चों को टैबलेट दिए गए हैं. इसको लेकर बच्चों में खासा उत्साह है. शिक्षकों को टैब भी उपलब्ध कराए जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि छुट्टियों के दौरान छात्र ऑनलाइन पढ़ाई करेंगे. इससे कोरोना काल में पढ़ाई में हुए नुकसान की भरपाई हो सकेगी, साथ ही छात्र-छात्राओं को टैब चलाना भी आ जाएगा.

STUDENT WITH MOBILE

शिक्षकों को करना होगा ये काम

स्कूल बंद रहने के बाद भी कोई शिक्षक बाहर छुटियां मनाने के लिए बाहर नहीं जाएगा. उन्हें हर समय टैव पर एक्टिव रहना पड़ेगा. विद्यार्थी किसी भी समय उनसे टैबलेट से जुड़ी समस्या या पाठ्यक्रम के लिए पूछ सकता है. शिक्षकों को रोज स्टुडेंट्स को काम देकर उसे चेक भी करना होगा. एप में पूरा डाटा रहेगा कि शिक्षक की ओर से कितना काम करवाया गया और विधार्थी ने कितना काम किया.

1 महीने तक छुटियां घोषित

हरियाणा सरकार ने राज्य के सभी स्कूलों में गर्मी की छुट्टी घोषित कर दी है. शिक्षा विभाग की ओर से आदेश जारी किया गया है कि 1 जून से 30 जून तक सभी सरकारी और निजी स्कूल बंद रहेंगे. स्कूल 1 जुलाई 2022 से फिर से खुलेंगे. शिक्षा निदेशालय ने इस आदेश की एक प्रति सभी जिला शिक्षा अधिकारियों, जिला प्रारंभिक शिक्षा अधिकारियों, खंड शिक्षा अधिकारियों, ब्लॉक प्रारंभिक शिक्षा अधिकारियों और स्कूल के प्रधानाचार्यों और राज्य के प्रभारी को भेजी है. इन सभी को ग्रीष्म अवकाश के संबंध में इस आदेश का अनुपालन सुनिश्चित करने को कहा गया है. लेकिन गर्मी की छुट्टियों के बावजूद सरकार ने कुछ छात्रों के लिए ऑनलाइन कक्षाएं जारी रखने का फैसला किया है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा के किसानों के लिए खुशखबरी, अब नए बाग लगाने पर प्रति हेक्टेयर 50% मिलेगा अनुदान

सीएम ने बांटे थे टैब

बता दें कि 5 मई को मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हरियाणा में छात्रों को मुफ्त टैबलेट देना शुरू किया था. मुख्यमंत्री ने महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय, रोहतक के टैगोर सभागार में आयोजित कार्यक्रम में कक्षा 10वीं, 11वीं और 12वीं के विद्यार्थियों को पहले दिन 5 लाख टैबलेट बांटे थें. मुख्यमंत्री ने एक बड़ा ऐलान करते हुए कहा था कि अगले साल कक्षा 9 के छात्रों को भी टैबलेट दिए जाएंगे. उन्होंने कहा कि पहले के समय में एक तख्ती पर पढ़ाई होती थी, लेकिन आज डिजिटल युग में तख्ती की जगह टैबलेट ने ले ली है. पहले छात्रों को किताबें खरीदनी पड़ती थीं लेकिन आज किताबें ई-बुक्स के जरिए टैबलेट में उपलब्ध होंगी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!