अनिल विज बोले, जनता के सहयोग से अगले 7 दिनों में सामान्य होगा कोरोना संक्रमण

चंडीगढ़ | हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति को भांपते हुए प्रदेश सरकार ने महामारी अलर्ट- सुरक्षित हरियाणा के तहत लॉकडाउन अवधि को एक सप्ताह यानि 7 जून तक बढ़ाने का निर्णय लिया है. दुकानदार भाईयों के विशेष आग्रह पर दुकानें खोलने का समय भी बदलकर अब सुबह 9 बजे से दोपहर 3 बजे तक किया गया है. लेकिन इस दौरान आम आदमी को भी पहले की तरह सरकार का सहयोग करते हुए कोविड गाइडलाइंस का पालन जारी रखना होगा.

anil vij 2

विज ने कहा कि जिस तरह से लगातार कोरोना संक्रमित केसों की संख्या में हर रोज कमी आ रही है, उम्मीद की जा सकती है कि अगले सप्ताह तक प्रदेश में संक्रमण दर सामान्य हो जाएगी. उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि अभी भी प्रदेश में 23 हजार एक्टिव केस है और संक्रमित दर 8 फीसदी से ज्यादा है. लेकिन रिकवरी रेट बढ़कर 95 फीसदी हों गया है जिससे राहत की सांस मिली है. विज ने दुकानदारों के साथ-साथ आम आदमी से भी अपील की है कि वे इस दौरान मास्क और सोशल डिस्टेंस का पालन करें ताकि 7 जून के बाद लॉकडाउन में शामिल कुछ पाबंदियों से छुटकारा मिल सके.

आया तबादलों का सीजन

गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने संकेत दिए हैं कि कोरोना काल में अच्छा प्रदर्शन करने वाले अधिकारियों को जहां सरकार की ओर से प्रोत्साहित किया जाएगा वहीं परफोर्मेंस के आधार पर कई अधिकारियों को झटका भी लग सकता है. मैरिट डिसमैरिट के आंकलन का कार्य शुरू किया जा चुका है. जिसके आभास के चलते कुछ अधिकारी जो मलाईदार पदों पर जमें बैठे हैं, उन्होंने तबादलों के डर से अपने आकाओं के चक्कर लगाने शुरू कर दिए हैं.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में लॉकडाउन को लेकर नई टाइमिंग जारी, इन नियमों में किया गया बदलाव

10 जिलों में 1000 से कम हुएं एक्टिव मरीज

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि प्रदेश के 10 जिलों में एक्टिव मरीजों की संख्या का आंकड़ा 1000 से नीचे पहुंच गया है और ऐसे ही जिलों में अब संक्रमित मरीजों की संख्या का आंकड़ा 100 से नीचे आ गया है. उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के अफसरों, डाक्टरों व पैरामेडिकल स्टाफ की दिन-रात मेहनत से कोरोना महामारी पर अंकुश लगाने में मदद मिल रही है. उन्होंने बताया कि पलवल, नूंह, महेन्द्रगढ़, चरखी दादरी, जींद, कैथल, कुरुक्षेत्र, अंबाला, यमुनानगर, सोनीपत और झज्जर जिलों में संक्रमण दर लगातार नीचे आ रही है जबकि एनसीआर में शामिल गुरुग्राम और फरीदाबाद में भी हालात सामान्य होने लगें हैं. अब यहां के हस्पतालों में बेड व आक्सीजन के लिए किसी प्रकार की कोई मारामारी नहीं है.

यह भी पढ़े -   15 जून से हरियाणा में सीरो-सर्वे की शुरुआत, 6 साल से ऊपर के बच्चों का भी होगा ब्लड टेस्ट

मोदी सरकार पार्ट-2 के दो साल बेमिसाल

गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि विपरित परिस्थितियों के बावजूद भी मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के दो साल बेमिसाल रहे हैं. विज ने कहा कि पिछले एक साल से कोरोना महामारी से उपजे मुश्किल हालातों के बावजूद भी केन्द्र सरकार ने सैकड़ों जनहितकारी योजनाओं के जरिए आम जनता का विश्वास जीतने का काम किया है. केन्द्र के निर्देशों पर देशभर में कोरोना महामारी की वजह से अनाथ हुए बच्चों को गोद लेने व उनका सम्पूर्ण खर्च वहन करने का फैसला काबिले-तारीफ है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!