पर्सनल लोन चाहिए तो अच्छा सिबिल स्कोर है जरूरी, जानें चेक करने की पूरी प्रक्रिया

चंडीगढ़ | आजकल लोग अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए पर्सनल लोन का सहारा लेते हैं. आपको पर्सनल लोन मिलेगा या नहीं यह काफी हद तक आपके सिबिल स्कोर पर निर्भर करता है. एक अच्छा सिबिल स्कोर आपके ऋण स्वीकृत होने की संभावना को बढ़ा देता है. अच्छे सिबिल स्कोर के साथ कम ब्याज दरों पर लोन संभव है.

Loan

सिबिल स्कोर 300 से 900 अंकों के बीच होता है. यदि स्कोर 750 अंक या उससे अधिक है तो ऋण प्राप्त करना आसान है. सिबिल स्कोर जितना बेहतर होगा, लोन लेना उतना ही आसान होगा. सिबिल स्कोर 24 महीने की क्रेडिट हिस्ट्री पर आधारित होता है. क्रेडिट इंफॉर्मेशन ब्यूरो (इंडिया) लिमिटेड भारत में सिबिल स्कोर प्रदान करने वाली एकमात्र एजेंसी है.

अपने सिबिल को कैसे जानें?

स्टेप 1- सिबिल की वेबसाइट www.cibil.com पर जाएं

यह भी पढ़े -   जरूरी खबर: 1 अक्टूबर के बाद से दिल्ली में बैन होंगे ये वाहन, यहाँ जान ले नही तो होगी दिक्कत

स्टेप 2- होम पेज पर गेट युअर फ्री सिबिल स्कोर पर क्लिक करें

स्टेप 3- अपना नाम, ईमेल आईडी दर्ज करें और एक पासवर्ड बनाएं. इसके बाद अपना कोई भी आईडी प्रूफ (पासपोर्ट नंबर, पैन कार्ड नंबर, आधार कार्ड या वोटर आईडी नंबर) चुनें. फिर अपना पिन कोड, जन्म तिथि और फोन नंबर दर्ज करें.

यह भी पढ़े -   दिल्ली में कोरोना महामारी को लेकर नई गाइडलाइंस जारी, नियम तोड़ा तो लगेगा 500 रुपए जुर्माना

स्टेप 4- सारी डिटेल्स डालने के बाद एक्सेप्ट एंड कंटिन्यू पर क्लिक करें.

चरण 5- अपने फोन पर प्राप्त वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) दर्ज करें और जारी रखें पर क्लिक करें.

चरण 6- आपको ‘आपका नामांकन सफल हुआ’ संदेश प्राप्त होगा. इसके बाद वेबसाइट के डैशबोर्ड पर जाएं.

स्टेप 7- आपका सिबिल स्कोर आपके सामने है.

वेबसाइट पर दिखने वाले पॉप अप पर क्लिक न करें.

सिबिल स्कोर किस पर निर्भर करता है?

30% सिबिल स्कोर इस बात पर निर्भर करता है कि आप समय पर लोन चुका रहे हैं या नहीं. सुरक्षित या असुरक्षित ऋण पर 25%, ऋण जोखिम पर 25% और ऋण उपयोग पर 20%.

यह भी पढ़े -   केनरा के बाद इंडियन ओवरसीज बैंक ने किया FD ब्याज दरों में बदलाव, जाने बढ़ी हुई ब्याज दरें

इन वजहों से बिगड़ता है सिबिल स्कोर

अगर आपने बैंक से कर्ज लिया है और उसे समय पर नहीं चुकाया तो आपका क्रेडिट स्कोर खराब या कम हो जाएगा. यदि आपके पास क्रेडिट कार्ड है और आप समय पर बिल का भुगतान नहीं करते हैं, तो यह आपके क्रेडिट स्कोर पर प्रतिकूल प्रभाव डालेगा. यदि आप अपने बैंक खाते में न्यूनतम बैलेंस नहीं रखते हैं या उसमें माइनस बैलेंस नहीं है तो भी आपका क्रेडिट स्कोर प्रभावित होता है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!