दिल्ली- जयपुर एक्सप्रेस- वे पर बन रहा है इंटरचेंज, 6 महीने तक इन वैकल्पिक रास्तों का करना होगा इस्तेमाल

गुरुग्राम | दिल्ली- जयपुर एक्सप्रेस-वे पर आवागमन करने वाले वाहन चालकों के लिए एक जरूरी सूचना हैं. सर्दन पेरिफेरल रोड़ और सेंट्रल पेरिफेरल रोड़ को NH-48 दिल्ली-जयपुर एक्सप्रेस-वे से जोड़ने के लिए नरसिंहपुर के पास इंटरचेंज निर्माण कार्य शुरू हो गया है. 2 महीने पहले एक्सप्रेस-वे के मेन कैरिजवे की लाइन बंद करके सर्विस लेन से वाहनों को निकालना शुरू किया गया था लेकिन निर्माण कार्य में परेशानी खड़ी होने के चलते अब नई लेन बनाकर दिल्ली- जयपुर के ट्रैफिक को डायवर्जन दिया गया है. एनएचएआई के अधिकारियों की तरफ से नया डायवर्जन खोलने की जानकारी के बाद ट्रैफिक पुलिस ने रविवार रात को ही वाहन चालकों के लिए नई एडवाइजरी जारी कर दी है.

यह भी पढ़े -   Raksha Bandhan Special: अबकी बार रक्षाबंधन पर भद्रा का साया, इस वजह से भद्राकाल में नहीं बांधा जाता रक्षासूत्र

Highway

वैकल्पिक मार्ग अपनाने की सलाह

NHAI की ओर से पीक टाइम के दौरान वैकल्पिक मार्ग से जाने की सलाह दी गई है. दिसंबर तक इस काम के पूरा होने की उम्मीद है और तब तक डायवर्ट रूट से ही वाहन चालकों को गुजरना होगा. यह डायवर्ट मोहम्मदपुर झासा से शुरू होकर खेड़की दौला टोल नाके से पहले वापस मेन एक्सप्रेस- वे में मिल जाएगा.

ये हैं वैकल्पिक मार्ग

• सोहना रोड़ से जयपुर की तरफ जाने वाले वाहन राजीव चौक व होंडा चौक की बजाय एसपीआर का इस्तेमाल करते हुए टोल बाइपास रोड से होते हुए खेड़की दौला में निकलें.

यह भी पढ़े -   Best Career Options: 12वीं के बाद छात्र करें ये 5 प्रोफेशनल कोर्स, मिलेगी बेहतर नौकरी

• जयपुर से गुड़गांव की तरफ से आने वाले वाहन वाटिका होते हुए द्वारका एक्सप्रेस की तरफ निकलें.

• फरीदाबाद व सोहना रोड़ की तरफ आने वाले छोटे वाहन टोल से पहले यू टर्न लेकर टोल बाइपास रोड़ से होते हुए एसपीआर का रास्ता अपनाएं.

• पुराने गुरुग्राम और लाइनपार के वाहन द्वारका एक्सप्रेस- वे लिंक रोड़ का प्रयोग कर खेड़की दौला के पार करके एक्सप्रेस- वे पर आ सकते हैं.

पीक टाइम में बचें

NHAI के एक अधिकारी ने बताया कि सुबह 8 से ग्यारह बजे तक और शाम को 5 बजे से रात ग्यारह बजे तक इस एक्सप्रेस- वे पर सफर करने से बचें और वैकल्पिक मार्गों का इस्तेमाल करते हुए अपने गंतव्य स्थान पर पहुंचे. खासकर रात आठ बजे के बाद भारी वाहनों की संख्या काफी होने पर यहां जाम जैसे हालात बन जाते हैं.

यह भी पढ़े -   तुरंत पैरों के दर्द से छुटकारा पाने के लिए, इन घरेलू उपायों का करें इस्तेमाल

इंटरचेंज बनने के बाद फर्राटा भरेंगे वाहन

इंटरचेंज बनने के बाद एक्सप्रेस-वे की एसपीआर और सीपीआर से सीधी कनेक्टिविटी हो जाएगी और दिल्ली, सोहना और फरीदाबाद की तरफ से वाहनों को जयपुर की तरफ आने- जाने के लिए नया और जाम फ्री रास्ता मिल जाएगा क्योंकि द्वारका एक्सप्रेसवे का काम भी तेजी से चल रहा है, जिससे सीधे एयरपोर्ट के पास पहुंचा जा सकेगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!