हरियाणा के राज्यसभा सांसद पर भड़के राव इंद्रजीत सिंह, नामांकन दाखिल करने से जुड़ा था मामला

गुरुग्राम | हरियाणा के अहीरवाल क्षेत्र के कद्दावर नेता एवं गुरुग्राम लोकसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार राव इंद्रजीत सिंह ने पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल एवं राज्यसभा सांसद सुभाष बराला (Subhash Barala) पर निशाना साधा है. पूरा वाकया भिवानी- महेंद्रगढ़ लोकसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार चौधरी धर्मवीर सिंह के नामांकन पत्र दाखिल करने से जुड़ा हुआ है, जिसकी जानकारी समय पर राव इंद्रजीत सिंह को नहीं दी गई थी.

Rao Inderjit Singh

बराला पर संयोजक की जिम्मेदारी

बता दें कि बीजेपी हाईकमान ने सुभाष बराला को चुनाव आयोजक की जिम्मेदारी सौंपी हुई है. उन्हें ही सभी स्टार प्रचारकों का शेड्यूल और उनके आने की सूचना संबंधित नेता को देनी होती है. साथ ही अभी तक के हुए नामांकन की जानकारी भी संबंधित नेताओं को देना उनका ही दायित्व बनता है.

चुनाव के बाद खबर लूंगा: इंद्रजीत

13 मई को महेंद्रगढ़ के अटेली में चौधरी धर्मवीर सिंह के समर्थन में आयोजित जनसभा में राव इंद्रजीत सिंह ने भी शिरकत की थी. यहां उन्होंने कहा कि यदि आप (धर्मबीर) 3 मई की रात को फोन न करते तो मुझे पता ही नहीं चलता कि आप 4 मई को नामांकन पत्र दाखिल कर रहे हैं. हमारी पार्टी के बड़े-बड़े नेता बैठे हुए हैं. हमारी पार्टी के एक और बड़े नेता हैं, MP भी रह लिए, शायद अब फिर से है.

राव इंद्रजीत ने कहा कि उनकी जिम्मेदारी 10 की 10 लोकसभा सीटें जिताने की है. उन्हें 3 दिन मिले थे कि इंद्रजीत सिंह को खबर करो कि 4 तारीख को धर्मबीर नामांकन पत्र दाखिल कर रहा है. 3 दिन तक इंद्रजीत को कानों- खबर नहीं होने दी कि धर्मबीर 4 मई को नामांकन करेगा.

उन्होंने कहा कि इसके लिए जिम्मेदार किसे ठहराऊंगा. धर्मबीर ने तो यह पूछ लिया कि तू (राव इंद्रजीत) आ रहा है कि नहीं आ रहा सुबह. इसे पार्टी वाले ये कहें कि हमारी जिम्मेदारी है कि हम इंद्रजीत को सूचना कर देंगे. अब सूचना न दें तो किसकी जिम्मेदारी है भाई. जिस पार्टी वाले की यह जिम्मेदारी है, उसकी मैं चुनाव के बाद खबर लूंगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!