ओमीक्रॉन का खतरा, हरियाणा में स्कूल खोलने को लेकर नई गाइडलाइंस जारी

हिसार । हरियाणा सरकार ने कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के सामने आने पर 1 दिसंबर से स्कूलों को पूरी क्षमता के साथ खोलने के फैसले को टाल दिया है. सरकार ने निर्देश जारी किए हैं कि दस दिसंबर तक स्कूल वर्तमान व्यवस्था के हिसाब से ही खुलेंगे और 50% छात्र हीं रोस्टर प्रणाली के तहत स्कूल आएंगे. स्कूलों के समय में भी कोई बदलाव नहीं होगा और पहले की तरह साढ़े आठ से डेढ़ बजे तक कक्षाएं लगेगी.

यह भी पढ़े -   दिल्ली- बठिंडा रेलवे लाइन पर यात्रियों को नई ट्रेन की सौगात, हरियाणा के इस क्षेत्र के लोगों को मिलेगी सुविधा

student corona school

शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने जानकारी देते हुए बताया कि आगामी 10 दिसंबर को इस बारे में समीक्षा कर कोई निर्णय लिया जाएगा. फिलहाल के लिए एक दिसंबर से पूरी क्षमता के साथ स्कूल खोलने के फैसले को टाल दिया गया है. उन्होंने बताया कि छात्रों की सुरक्षा व एहतियात बरतते हुए यह कदम उठाया गया है. कोरोना का नया स्वरूप ओमिक्रॉन का खतरा पूरी दुनिया में खलबली मचा रहा है और ऐसे में हम किसी तरह का रिस्क नहीं लेना चाहते हैं.

हिसार के जिला शिक्षा अधिकारी ने बुधवार से नए स्कूल कैलेंडर के अनुसार समय-सारिणी लागू करने के आदेश मंगलवार को सभी खंड शिक्षा अधिकारियों को जारी कर दिए थे लेकिन जैसे ही शिक्षा मंत्री ने ओमिक्रॉन के खतरे को भांपते हुए पुरानी व्यवस्था रखने के निर्देश जारी किए , उन्होंने अपने आदेश वापिस ले लिएं.

यह भी पढ़े -   कैशलेस होगा OPD का रजिस्ट्रेशन, बारकोड स्कैन करके जमा होगा रजिस्ट्रेशन शुल्क

शिक्षा मंत्री ने कहा कि कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर विशेषज्ञ किसी ठोस नतीजे पर नहीं पहुंचे हैं. दुनिया भर में इस नए वेरिएंट का डर बना हुआं है. जैसे ही इस बारे में स्थिति स्पष्ट हो जाएंगी , वैसे ही स्कूलों को पूरी क्षमता के साथ खोलने पर निर्णय लिया जाएगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!