कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच प्रवासी मजदूरों का पलायन तेज, खचाखच भरी बसे

बहादुरगढ़ | कोरोना संक्रमित केसों में लगातार इजाफा, नाइट कर्फ्यू लगने व पड़ोसी राज्यों दिल्ली, पंजाब व यूपी में साप्ताहिक लाकडाउन लगने से प्रवासी मजदूरों का पलायन भी रफ्तार पकड़ने लगा है. हर रोज बढ़ती बंदिशों के बीच संभावित लॉकडाउन की आंशका के चलते बहादुरगढ़ में एक बार फिर बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूरों का पलायन देखने को मिल रहा है. पलायन करने वाले ज्यादातर मजदूर बिहार व यूपी राज्यों से है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा सरकार का बड़ा फैसला, लॉकडाउन अवधि में घर ही मिलेगा राशन

lockdown majdur palayan

HSIID से सटे गांव जाखोदा से कई बस यूपी व बिहार को रवाना हुई. प्रवासी मजदूरों का कहना था कि खेतों का काम लगभग खत्म हो चुका है. फैक्ट्री मालिक भी वेतन रोक रहें हैं. कोरोना संक्रमण भी लगातार बढ़ रहा है. आशंका है कि दिल्ली हरियाणा में भी लॉकडाउन लग जाएं, इसलिए वे इससे पहले ही अपने घर पहुंचना चाहते हैं.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में आज से इन लोगों को लगेगी कोरोना वैक्सीन, देखें रिपोर्ट

आंखों में दिख रहा है डर

प्रवासी मजदूरों की आंखों में पिछली बार की तरह इस बार भी डर दिखाईं दे रहा है. हर कोई किसी भी तरह से जल्द से जल्द अपने घर पहुंचने की कोशिश कर रहा है. बता दें कि पिछले साल जब लॉकडाउन लगा था तो गुरुग्राम से प्रवासी मजदूर अपने आप पैदल ही घर जाने को मजबूर हो गए थे और इन्होंने हजारों किलोमीटर की दूरी तय की थी.

यह भी पढ़े -    लॉकडाउन में बाहर घूमने वालों की अब नहीं खैर, सख्ती से निपटने के आदेश जारी

उस समय इन मजदूरों की बेबसी व लाचारी की तस्वीरों ने सभी को झकझोर दिया था. अब दुबारा से ऐसे हालात न हो,इसकी आहट भर से ही ये मजदूर अपने घरों की ओर पलायन करने लगे हैं. लेकिन बड़ा सवाल ये भी है कि अगर इतनी बड़ी संख्या में ये मजदूर पलायन करेंगे तो हरियाणा के उधोग कैसे चलेंगे.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!