माँ कों तड़पते देख 4 साल की बेटी ने किया मामा को वीडियो कॉल, मुँह से निकल रहा था झाग

जींद । कस्बे के पंजाब नेशनल बैंक की लोन मैनेजर 32 वर्षीय हरप्रीत की गुरुवार कों  संदिग्ध हालात में मौत हो गई. उसके भाई हरमन सिंह ने आरोप लगाया कि ससुराल वालों ने जहर देकर हरप्रीत की हत्या कर दी. शुक्रवार को मायके पक्ष के लोगों ने सफीदों थाने में जाकर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर हंगामा किया.

jind accident

पुलिस ने किया 6 लोंगो के खिलाफ मामला दर्ज 

जब पुलिस ने घर पर चेकिंग की, तो वहां ससुराल वाले नहीं मिले. पुलिस ने पिता रविंद्र सिंह की शिकायत पर पति समेत छह आरोपियों के खिलाफ दहेज के लिए हत्या समेत अन्य 6 धाराओं में केस दर्ज किया. अंबाला तेपला गांव निवासी हरप्रीत की शादी नवंबर 2015 में सफीदों के रामपुरा रोड निवासी प्रभप्रीत सिंह पुत्र गुरबजन सिंह के साथ हुई थी. पति असंध के कैनरा बैंक में मैनेजर है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा के 23 हजार नंबरदारों के लिए अच्छी खबर, आयुष्मान भारत योजना के तहत मिलेगी सुविधाए

शर्मा ने बताया कि शादी में हैसियत के अनुसार उन्होंने दान दहेज दिया था. फिर भी उसको अक्सर दहेज के चलते परेशान किया जाता था. उसकी बहन ने कई बार फोन पर परिजनों को पता है कि ससुराल में उसके साथ अक्सर मारपीट की जाती है. उन्होंने ससुराल वालों पर बेटी को जहर देकर मारने का आरोप लगाया है. 2012 में क्लर्क भर्ती हुई थी, बाद में वह प्रमोशन पाकर लोन मैनेजर बन गई थी.

यह भी पढ़े -   केजरीवाल सरकार ने फिर बढ़ाया सात दिन का लॉकडाउन, जाने क्या रहेंगी पाबंदियां

4 साल की बेटी ने मामा को फोन करके माँ के बारे में बताया 

मृतिका के भाई ने बताया कि हरप्रीत की 4 साल की बेटी निमृत है जो मोबाइल चलाना जानती है. गुरुवार शाम करीब 6:30 बजे निमृत कौर ने हरमन को फोन करके बताया कि उसकी मां हरप्रीत उल्टियां कर रही है औऱ जमीन पर पड़ी हुई है . जब मां से बात करने के लिए कहा गया तो वह कुछ नहीं बोली औऱ उसके मुंह से झाग निकल रहा था. पड़ोसियों ने बताया कि हरप्रीत पानीपत के निजी अस्पताल में दाखिल है. सूचना मिलते ही परिजन 11:00 बजे पानीपत पहुंचे, जिसके 1 घंटे बाद डॉक्टरों ने हरप्रीत को मृत घोषित कर दिया.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!