Ganesh Chaturthi 2022: भगवान गणेश की मूर्ति लाने से पहले जान लें ये 4 जरूरी बातें, होगी हर मनोकामना पूरी

ज्योतिष | भगवान गणेश का उत्सव 31 अगस्त भाद्रपद के शुल्क पक्ष की चतुर्थी (Ganesh Chaturthi 2022) को शुरू हो रहा है और यह 9 सितंबर 2022 को समाप्त होगा. गणेश चतुर्थी के दिन लोग अपने घरों में गणेश जी की मूर्ति की स्थापना करते हैं. ऐसा माना जाता है कि इस उत्सव के दौरान जो भी व्यक्ति सच्ची श्रद्धा से गणेश जी की पूजा करता है. भगवान उसकी हर मनोकामना पूरी करते हैं लेकिन इसके लिए पहले आपको कुछ खास बातों का ध्यान रखना होगा तभी आपको आपकी पूजा का पूर्ण फल मिलेगा.

यह भी पढ़े -   नवरात्री में हवन के बिना अधूरी होती है पूजा, इस प्रकार करें शारदीय नवरात्री में हवन

Ganpati Ganesh

भगवान गणेश की कैसी मूर्ति घर लाएं

भगवान गणेश की मूर्ति खरीदते वक्त हमें उनकी मुद्रा का खास ध्यान रखना होता है. वास्तु शास्त्र के अनुसार, गणेश जी की ललितासन यानी बैठी हुई मुद्रा में ही मूर्ति खरीदनी चाहिए क्योंकि यह बेहद शुभ होता है और घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है.

किस दिशा में होनी चाहिए गणेश जी की सूंड

वास्तु शास्त्र के अनुसार, बप्पा की मुद्रा के साथ-साथ उनकी सूंड किस दिशा में है इसका भी खास ध्यान रखना चाहिए. आप जब भी मूर्ति खरीदे तो ध्यान रखें की बप्पा की सूंड बाईं और झुकी होनी चाहिए. ऐसी मूर्ति घर लाने से घर में सुख-समृद्धि और सफलता बनी रहती है. इसी के साथ इस बात का ध्यान भी रखें की बप्पा की मूर्ति में मूषक हो और उनके हाथों में मोदक हो क्योंकि यह दोनों ही भगवान को अति प्रिय हैं.

यह भी पढ़े -   आज से शुरू हो रहे हैं इन राशि के जातकों के अच्छे दिन, जानिये सप्ताहिक राशिफल

किस रंग की मूर्ति लानी चाहिए

वास्तु शास्त्र के अनुसार, लाल सिंदूर रंग की गणेश मूर्ति घर लानी चाहिए. इसके अलावा, घर में सुख-समृद्धि और शांति के लिए आप बप्पा की सफेद रंग की मूर्ति भी घर ला सकते हैं.

किस दिशा में रखें मूर्ति

वास्तु के अनुसार, भगवान गणेश की मूर्ति हमेशा उत्तर दिशा में रखनी चाहिए क्योंकि इस दिशा में मां लक्ष्मी के साथ-साथ भगवान शिव भी वास करते हैं. इसी के साथ गणेश जी का मुख घर के मुख्य द्वार की ओर होना चाहिए.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!