15 फीसदी तक महंगा हुआ घर खरीदना, यहाँ पढ़े एनसीआर में हाउसिंग प्रोपर्टी का रेट

नई दिल्ली | राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र की हाउसिंग प्रोपर्टी को देश की सबसे हॉट प्रोपर्टी माना जाता है. यही वजह है कि यहां पर घर लेना बहुत से लोगों का सपना ही रह जाता है. वित्त वर्ष 2022 की पहली तिमाही में घरों के दाम एनसीआर क्षेत्र के मुकाबले दक्षिण भारतीय शहर चेन्नई में ज्यादा बढ़े हैं.

GHAR

डेटा विश्लेषण कंपनी प्रॉपइक्विटी की एक रिपोर्ट के अनुसार गुरुग्राम में मकान का भाव 10,315 रुपये प्रतिवर्ग फुट से 12 फीसदी बढ़कर 11,517 रुपये हो गया है तो वहीं नोएडा में औसत कीमत नौ प्रतिशत बढ़कर 7,411 रुपये प्रति वर्ग फुट हो गई. जबकि मुंबई, ठाणे और पुणे में आवास की कीमतें तीन प्रतिशत तक बढ़ी हैं.

रिपोर्ट के अनुसार, न केवल घरों के रेट में तेजी दर्ज हुई है बल्कि दिल्ली और गुरुग्राम में नई लांचिंग में भी 57% की तेजी दर्ज हुई है. यह 1,205 यूनिट रही जबकि नोएडा में नए मकानों की संख्या 87% बढ़कर 1,010 यूनिट हो गई. सालाना आधार पर नई लॉन्चिंग में 51% का उछाल आया है. हालांकि मार्च तिमाही की तुलना में यह 24 % कम रहा है.

यह भी पढ़े -   गुरूग्राम: मंत्री के नाम पर आबकारी विभाग के अधिकारी ने मांगी थी महंगी शराब, अब मिली ये सजा

चेन्नई टॉप पर

देश के प्रमुख शहरों में पहली तिमाही में चेन्नई में मकानों के भाव 15 प्रतिशत तक बढ़े हैं. गुरुग्राम और हैदराबाद में रेट 12 प्रतिशत तक बढ़े हैं तो वहीं नोएडा में औसत कीमत 9 प्रतिशत बढ़कर 7,411 रुपए प्रति वर्ग फुट है. बेंगलुरु में कीमतें 8 प्रतिशत बढ़कर 6,196 रुपए प्रति वर्ग फुट हो गई है.

यह भी पढ़े -   रेलवे का बड़ा तोहफा, सीनियर सिटीजन को फिर से मिलेगी टिकट में छूट

मुंबई में कम बढ़ी कीमतें

मुंबई, पुणे और ठाणे में आवासीय कीमत 3 प्रतिशत तक बढ़ी है. मुंबई में आवासीय संपतियों की कीमत 18,896 रुपए प्रति वर्ग फुट तो वहीं पुणे में 5,348 रुपए प्रति वर्ग फुट हो गई है. ठाणे में आवासीय संपतियों की कीमत 6,325 रुपए प्रति वर्ग फुट हो गई है. कोलकाता में इस साल अप्रैल-जून तिमाही में घरों की कीमतें केवल एक प्रतिशत बढ़कर 5,431 रुपये प्रति वर्ग फुट पर पहुंच गईं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!