बाजार में किया जा रहा नकली अदरक का व्यापार, जानिये असली और नकली अदरक में फर्क

नई दिल्ली | अदरक के बिना चाय अधूरी होती है. यदि चाय में अदरक न डाली जाए, तो चाय का स्वाद ही बिगड़ जाता है. अदरक के चाय मे डालने के साथ कई और फायदे भी है. आजकल बाजार में नकली अदरक का भी व्यापार किया जा रहा है, जो स्वाद तो दूर की बात है सेहत पर भी बुरा प्रभाव डाल रही है. मुनाफा कमाने के लिए असली की तरह दिखाई देने वाला हूबहू नकली अदरक बाजार में बेचा जा रहा है. आज की इस खबर में हम आपको नकली और असली अदरक में फर्क करने के बारे में जानकारी देंगे. इसके जरिए आप आसानी से नकली और असली अदरक की पहचान कर पाएंगे.

यह भी पढ़े -   IIMC Delhi Jobs: दिल्ली में आई कार्यालय सहायक के पदों पर भर्ती, मिलेगी 25 हजार सैलरी

adrak

क्या है नकली अदरक

असली अदरक की तरह दिखाई देने वाली नकली अदरक एक पहाड़ी पेड़ का हिस्सा है. नकली अदरक तहड नामक पेड़ का हिस्सा है, जो सुख कर बिल्कुल अदरक की तरह दिखाई देता है. तहड़ को सुखाकर असली अदरक के साथ मिलाकर बाजारों में बेचा जा रहा है.

इस प्रकार करें असली अदरक की पहचान

  • अदरक की सबसे बड़ी पहचान उसकी खुशबू होती है. असली नकली की पहचान करने के लिए आप अदरक को सूंघकर देखें.
  • इसकी एक जड़ होती है, जो जमीन के अंदर उगती है. इस वजह से अदरक में कहीं-न-कहीं मिट्टी रह जाती है. यदि आपको अदरक एकदम साफ दिखे और उस पर मिट्टी का किसी प्रकार का भी कोई निशान ना हो और ना ही खुशबू आ रही हो तो निश्चित तौर पर वह नकली अदरक है.
  • आप दुकान पर ही अदरक को तोड़ कर देख लें. यदि अदरक के भीतर रेशे नहीं मिलते तो यह नकली अदरक है. बता दें कि असली अदरक के अंदर रेशे अच्छी खासी मात्रा में मौजूद होते हैं.
  • अदरक सेहतमंद होने के साथ-साथ खाने की चीजों का स्वाद भी बढ़ाता है इसलिए अदरक खरीदने से पहले चखकर जरूर देखें.
यह भी पढ़े -   दिसंबर से Hero के दोपहिया वाहन खरीदना होगा महंगा, जानें कितने रुपए तक बढ़ी कीमतें

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!